Now Reading
मुरैना जिले के लेपा गाँव मे खूनी अदावत दस वर्ष पहले हुई दो हत्याओं के बदले छह की हत्या की ,मृतकों में तीन महिलाएं भी शामिल

मुरैना जिले के लेपा गाँव मे खूनी अदावत दस वर्ष पहले हुई दो हत्याओं के बदले छह की हत्या की ,मृतकों में तीन महिलाएं भी शामिल

 

 

ग्वालियर। मुरैना जिले के लेपा (भिडोसा) में पुरानी रंजिश के चलते आज जमकर खूनी होली खेली गई। इसमें एक युवक ने एक ही परिवार के छह लोगों को पूरे गाँव के सामने गोली से उड़ा दिया । मृतकों में पिता उसके दो बेटे और बहुएं शामिल है । इस गोलीबारी और झगड़े में अनेक महिला और पुरुष भी शामिल है । घटना के बाद से गाँव मे तनाव और दहशत का माहौल है । गाँव मे भारी पुलिस फोर्स तैनात किया गया है ।

बताया गया कि थाना सिहोनिया क्षेत्र के ग्राम लेपा में आज सुबह धीर सिंह तोमर ने अपने साथियों सहित गजेंद्र सिंह तोमर के घर पर हमला कर दिया। वे लंबे अरसे बाद अपने गाँव के घर मे अपने दोनो बेटे और बहुओं के साथ रहने पहुंचे थे । वे ताला भी नही खोल सके कि उन पर हमला बोला । बायरल वीडियो में एक युवक फायरिंग करते दिख रहा है । उसने एक एक करके गोली मारी । इसमें गजेंद्र, उनके दो बेटे और बहुओं को गोली लगीं । इनमे से तीन की तो मौके पर ही मौत हो गई जबकि बताया गया है कि तीन ने रास्ते मे और उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। इस घटना में आधा दर्जन महिला और पुरुष भी जख्मी हुए हैं ।

बताया गया है इस जघन्य हत्याकांड की बजह 2013 में हुई घटना की रंजिश है। तब धीर सिंह तोमर और गजेंद्र सिंह तोमर के बीच घूरा डालने को लेकर विवाद हुआ था और इस विवाद में गजेंद्र के परिवार के दो लोगों की हत्या हुई थी । इस हत्याकांड के बाद आरोपी गाँव छोड़कर चले गए थे। बाद में दोनो पक्षों में राजीनामा हो गया था इसके चलते वे कोर्ट से भी बरी हो गए। मामला निपट जाने और राजीनामा हो जाने के बाद निश्चिंत होकर गजेंद्र सिंह अपने बेटे ,बहु,और अन्य परिजनों के साथ 2013 के बाद अपने पैतृक घर मे रहने के लिए आज सुबह ही गाँव पहुंचे थे । जैसे ही उन्होंने अपने घर का ताला खोलने की कोशिश की धीर सिंह के परिजनों ने उन्हें घेरकर पहले तो लाठियों डंडों से हमला कर पीटने की कोशिश की । इससे गाँव मे हिंसा और भगदड़ का माहौल हो गया । इस बीच एक युवक ने अपनी रायफल से एक एक कर छह लोगों को गोली मार दी।
इस हत्याकांड का एक वीडियो भी वायरल हुआ है। इसमे युवक निर्भीक होकर फायरिंग करते दिख रहा है लेकिन मृतक़ भी सामने ही डटे है। वे जान बचाने के लिए भागते नही दिख रहे हैं।

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची । पुलिस ने तीनों शव को उठाकर अस्पताल पहुंचाया जहाँ उनका पोस्टमार्टम करवाया जाएगा। घायलों को पुलिस लाइन जिला चिकित्सालय भेजा गया है। जिले के प्रभारी पुलिस अधीक्षक रायसिंह नरवरिया ने घटना की गंभीरता को देखते हुए अत्यधिक पुलिस बल गांव में तैनात किया है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बनाया वीडियो घटना के बाद वायरल हुआ है.

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top