Now Reading
तेल की रस्म पूरी कर सोने गए दूल्हे ने लगाई फांसी, जिसकी बारात में शामिल होना था, उसकी कंधों पर अर्थी उठाई

तेल की रस्म पूरी कर सोने गए दूल्हे ने लगाई फांसी, जिसकी बारात में शामिल होना था, उसकी कंधों पर अर्थी उठाई

टीकमगढ़ / बंडा रोड स्थित महेंद्र कूप कॉलोनी निवासी एक परिवार में शादी समारोह होने से खुशियों का माहौल था। परिवार वाले और रिश्तेदार शादी की रस्मों को पूरा करने में लगे थे। इसी बीच दूल्हे ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। शादी के दिन पहले दूल्हे के फांसी लगाने से परिवार की खुशियां मातम में बदल गईं।

महेंद्र कूप कॉलोनी में रहने वाले गोकुल लोधी के बेटे नरेंद्र लोधी का विवाह खरगापुर में तय हुआ था। नरेंद्र की 8 मई को शादी होने वाली थी। घर में सभी रिश्तेदार आ चुके थे। परिवार वाले और रिश्तेदार विवाह की रस्मों को पूरा रहे थे। दूल्हे नरेंद्र को परिवार वालों ने तेल चढ़ाया। तेल की रस्म पूरी होने पर रात में वह अपने कमरे में सोने चला गया।

सुबह जब नरेंद्र सोकर नहीं उठा तो रिश्तेदार और परिवार के लोगों ने उसे आवाज लगाई। लेकिन अंदर से कोई जवाब नहीं मिला। इस पर परिवार वालों ने कमरा खोलकर देखा तो वहां का नजारा देख दंग रह गए। कमरे में नरेंद्र का शव फंदे पर लटक रहा था। नरेंद्र के अचानक आत्महत्या करने से परिवार में मातम छा गया। जिसकी बारात में शामिल होना था, उसकी परिजनों ने अर्थी उठाई।

नरेंद्र के आत्महत्या करने का कारण सामने नहीं आया है और न ही कोई सुसाइड नोट मिला हैै। मामले में परिवार वाले भी आत्महत्या के कारण नहीं बता पा रहे हैं। पुलिस आत्महत्या के प्रकरण में जांच कर रही है। परिवार के बयान होने के बाद ही आत्महत्या का कारण स्पष्ट हो सकेगा।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top