Now Reading
राज्यसभा:पहली बार आमने – सामने बैठेंगे दिग्गी और सिंधिया

राज्यसभा:पहली बार आमने – सामने बैठेंगे दिग्गी और सिंधिया

सिंधिया, दिग्विजय और खड़गे सहित 61 नए सांसदों ने ली राज्यसभा की शपथ

-ब्यूरो-
दिल्ली। देशभर से नव निर्वाचित 61 सांसदों ने आज राज्यसभा सदस्य के रूप में शपथ ली । राज्यसभा के सभापति उप राष्ट्रपति वेंकय्या नायडू ने उन्हें सादे समारोह में पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई । 
शपथ लेने वालों में मप्र से भाजपा के टिकट पर पहली बार चुने गए ज्योतिरादित्य सिंधिया और पहले भी राज्यसभा सदस्य रहे पूव मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह,पहले लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता रह चुके मल्लिकार्जुन खड़गे और झारखंड मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री शिबू शोरेन शामिल हैं ।
गौरतलब है कि कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया पिछला लोकसभा चुनाव लगभग सवा लाख मतों के भारी अंतर से हारने की बाद से वे असहज महसूस कर रहे थे और उन्होंने अपने समर्थक छह मंत्रियो सहित लगभग 16 विधायको के इस्तीफे करा दिए । कुछ और विधायकों के इस्तीफे के कारण पन्द्रह साल बाद मप्र में बनी कांग्रेस की कमलनाथ सरकार अल्पमत में आ गई जिसके चलते कमलनाथ ने इस्तीफा दे दिया ।
इसके बाद मप्र में एक बार फिर भाजपा सत्ता में लौट आई और शिवराज सिंह के नेतृत्व में सरकार बन गई । इसमे सिंधिया ने अपने लगभग एक दर्जन पूर्व विधायको को सदन का सदस्य न होते हुए मंत्री पद की शपथ दिलवा दी और वे स्वयं राज्यसभा के सदस्य निर्वाचित हो गए।
पहली बार आमने – सामने बैठेंगे दिग्गी और सिंधिया
कांग्रेस में रहते हुए भी गुटवाजी के चलते पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच रिश्ते ठीक नही रहे । दोनो एक दूसरे के खिलाफ गाहे – बगाहे अपना अलगाव का प्रदर्शन करते ही रहते थे । लेकिन रहे एक ही पार्टी में । इसके पहले तक दिग्विजय सिंह राज्यसभा में तो सिंधिया लोकसभा में रहे । अब पहला मौका होगा जब ये दोनों दिग्गज एक ही सदन के सदस्य रहेंगे और वो भी अलग- अलग दलों के सदस्य के रूप में ।
इस शपथ ग्रहण के बाद राज्यसभा में भाजपा की ताकत में बड़ा इज़ाफ़ा हुआ है । भाजपा के राज्यसभा में अभी 75 सदस्य थे जो अब बढ़कर 86 हो गए हैं ।
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top