Now Reading
योगी बोले जो सीएए पर मौन रहेगा वह भी अपराधी । योगी ने मप्र में और क्या क्या कहा ? पढ़ें पूरी खबर

योगी बोले जो सीएए पर मौन रहेगा वह भी अपराधी । योगी ने मप्र में और क्या क्या कहा ? पढ़ें पूरी खबर

सीएए के समर्थन में सभा करने ग्वालियर पहुंचे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यहां कांग्रेस पर जमकर बरसे । उन्होंने कहाकि यह कानून किसी मजहब के खिलाफ नही है लेकिन कांग्रेस इसके विरोध के बहाने देश का।सामाजिक ढांचा छिन्न भिन्न करने में लगी है जिसके खिलाफ सबको खड़ा होना पड़ेगा । मौन रहबे वाला भी अपराधी की श्रेणी में गिना जाएगा।
श्री योगी भाजपा द्वारा सी ए ए कानून के समर्थन में चलाए जा रहे जन जागरण अभियान के तहत ग्वालियर पहुंचे और जीवाएमसी क्लब में आयोजती सभा मे अपना संबोधन दिया । बाद में उन्होंने रैली में भी शिरकत की । कुछ दूर साथ चलने के बाद वे वापिस लौट गए जबकि रैली आगे रवाना हो गई ।
योगी ने कहाकि कांग्रेस देश के हितों के साथ खिलवाड़ कर रही है।
कांग्रेस वामपंथ की अवधारणा का सहारा लेकर दुष्प्रचार करने में जुटी है।
उन्होंने कहाकि यह कानून किसी जाति मजहब के खिलाफ नही है । उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने तुष्टिकरण करने का काम किया है,जो कि जिन्ना और कांग्रेस के पद की लालसा के चलते हुए किया ।
योगी ने निशाना साधते हुए कहाकि संविधान बचाने की वो लोग बात कर रहे है जिसने संविधान का गला घोंटने का काम किया है। उनका कहना है कि पाकिस्तान भारत और दुनिया के लिए नसूर बना हुआ है। यही कारण है कि भारत मे मुस्लिम 6 से 7 गुना बढ़ा, वही पाकिस्तान में हिन्दू घटा है।1950 नेहरू लियाकत के समझौते में साफ था जो जिस देश मे अल्पसंख्यक के रूप में रह रहे है उनका पूरा ख्याल रखा जाए,भारत ने तो अपना वादा निभाया लेकिन पाकिस्तान ने नही निभाई।
योगी ने दावा किया कि भीम राव अम्बेडकर और गांधी जी पाकिस्तान  विभाजन के खिलाफ थे,लेकिन कांग्रेस की टीम थी जो हर हाल में सत्ता चाहती थी ।
उनका यह भी कहना था कि  ये कोई नया कानून नही है बल्कि 1955 में बने कानून में ही बदलाव किया है ।
 भाजपा नेता ने दावा किया कि अब pok में भी मांग उठने लगी है कि उन्हें भी कश्मीर के साथ लेलो । उन्होंने कहाकि दुर्भाग्य से  कांग्रेस को आज भी शरणार्थियों और घुसपैठियों में अंतर समझ मे नही आता है।कांग्रेस की नीयत साफ नही थी उन्होंने कोर्ट में तथ्य नही रखे इसीलिए फैसला आने में देरी हुई।
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top