Now Reading
कांग्रेस शिवसेना के रुख पर अपनी स्थिति स्पष्ट करें-मायावती

कांग्रेस शिवसेना के रुख पर अपनी स्थिति स्पष्ट करें-मायावती

लखनऊ. बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष और राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने रविवार को कहा कि शिवसेना ने नागरिक संसोधन बिल पर केंद्र सरकार का साथ दिया है और उसके बाद वह सावरकर को लेकर वह कांग्रेस पर सवाल उठा रही है। ऐसा में कांग्रेस का दोहरा चरित्र सबके सामने आ गया है। इन मामलों को लेकर कांग्रेस को अपनी स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए।

मायावती ने रविवार सुबह लगातार तीन टि्वट किए। उन्होंने लिखा है, ”शिवसेना अपने मूल एजेण्डे पर अभी भी कायम है, इसलिए इन्होंने नागरिकता संशोधन बिल पर केन्द्र सरकार का साथ दिया और अब सावरकर को भी लेकर इनको कांग्रेस का रवैया बर्दाश्त नहीं है।”

दूसरे टि्वट में मायावती ने कहा कि इसके बावजूद भी कांग्रेस पार्टी महाराष्ट्र सरकार में शिवसेना के साथ अभी भी बनी हुई है तो यह सब कांग्रेस का दोहरा चरित्र नहीं है तो और क्या है?

मायावती ने कहा कि कांग्रेस को इस मामले में अपनी स्थिति जरूर स्पष्ट करनी चाहिये। वरना यह सब इनकी अपनी पार्टी की कमजोरियों पर से जनता का ध्यान बांटने के लिए केवल कोरी नाटकबाजी ही मानी जायेगी।

दरअसल, शिवसेना नेता संजय राउत ने शनिवार को कहा था कि वीर सावरकर न केवल महाराष्ट्र बल्कि देश के भी देवता हैं। उन्होंने कहा कि सावरकर का नाम देश के लिए गर्व और गौरव का विषय है। नेहरू और गांधी की तरह सावरकर ने स्वतंत्रता के लिए अपना बलिदान दिया था। ऐसे हर भगवान को सम्मानित किया जाना चाहिए। इससे कोई समझौता नहीं होना चाहिए।

राज्यसभा सांसद राउत ने यह बयान कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के उस बयान के बाद में दिया था, जिसमें राहुल ने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा था कि उनका नाम ‘राहुल सावरकर’ नहीं है, वह राहुल गांधी हैं और माफी नहीं मांगेंगे।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top