Now Reading
तूफान के बीच समुद्र में बह के आया सोने जैसा मंदिर, अधिकारी भी हैरान

तूफान के बीच समुद्र में बह के आया सोने जैसा मंदिर, अधिकारी भी हैरान

मौसम विभाग ने ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। इस बीच यहां एक अचंभित कर देने वाली घटना हुई है। आसनी तूफान के कारण ऊंची उठ रही लहरों में बीच समुद्र तट पर सोने जैसा का एक मंदिर तैयार हुआ दिखाई दिया है। तटरक्षक बलों ने इस मंदिर को निकाल लिया है और जांच के लिए शीर्ष अधिकारियों को सूचित कर दिया है। स्थानीय पुलिस अधिकारी का कहना है कि हो सकता है कि यह किसी दूसरे देश से आया हो। हमने इंटेलिजेंस और उच्च अधिकारियों को सूचित कर दिया है, लेकिन समुद्र में सोने जैसा मंदिर तैर कर आने के कारण इसके प्रति यहां लोगों में आस्था बढ़ गई है और सुनहरे मंदिर को देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी है।

चक्रवात ‘आसनी’ के आंध्र प्रदेश के काकीनाडा जिले में तट को आज छू सकता है। हालांकि मौसम विभाग ने बताया है कि चक्रवात ‘आसनी’ पहले की तुलना में काफी कमजोर हो चुका है लेकिन फिर भी एहतियात के तौर पर तटवर्ती जिलों में अलर्ट जारी किया गया है। कोस्ट गार्ड और एनडीआरएफ जवानों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है.

आंध्र प्रदेश के तटीय जिलों में भारी से बहुत भारी वर्षा की चेतावनी जारी की गई है। तेलंगाना, नलगोंडा, सूर्यापेट, भद्राद्री कोठागुडेम, खम्मम और मुलुगु जिलों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। पड़ोसी राज्य तेलंगाना में भी चक्रवाती तूफान का असर देखने को मिल सकता है। मौसम वैज्ञानिक डॉ नाग रत्ना ने बताया है कि नलगोंडा, सूर्यापेट, भद्राद्री कोठागुडेम, खम्मम और मुलुगु में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है।
12 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ रहा ‘आसनी’
चक्रवाती तूफान ‘आसनी’ पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर पिछले 6 घंटों के दौरान 12 किमी प्रति घंटे की गति से पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ रहा है और लेकिन धीरे धीरे इसकी दिशा भी परिवर्तित हो रही है और कमजोर पड़ते जा रहा है। मौसम कार्यालय के अधिकारियों ने पहले कहा था कि चक्रवात ‘आसनी’ के कारण तेलंगाना के कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश या गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top