Now Reading
पत्नी की हत्या का आरोपी पुलिस ने दबोचा: पुलिस के सामने फूट-फूट कर रोया, बोला- मैं बर्बाद हो गया

पत्नी की हत्या का आरोपी पुलिस ने दबोचा: पुलिस के सामने फूट-फूट कर रोया, बोला- मैं बर्बाद हो गया

भिंड। जिले के फूप थाना क्षेत्र में जिनोरा गांव में सोमवार को मुन्नूपाल ने अपनी पत्नी की घर के अंदर डंडे और बंदूक का बट मारकर हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी ने शव को दफनाया और माैके से फरार हो गया था। इस अंधेकत्ल का खुलासा गुरुवार की रात को हो गया। पुलिस ने शव को बरामद कर लिया। फूप थाना पुलिस ने आरोपी मुन्नूपाल को भी गिरफ्तार कर लिया। पुलिस द्वारा पकड़े जाने के बाद आरोपी हवालात में फूट-फूट कर रोया और बोला- मैं बर्बाद हो गया।

फूप थाना प्रभारी अनीता गुर्जर के मुताबिक मुन्नू पाल और उसकी पत्नी कुसुम का लंबे समय से विवाद चला आ रहा था। आरोपी मुन्नूपाल और कुसुम का समझौता होने के बाद कुसुम अपने मायके से घर आई थी। आरोपी के चार बेटे और दो बेटियां है। छोटे लड़के आशीष को छोड़कर सभी की शादी हो चुकी है। घटना वाले दिन मुन्नूपाल बाहर से आया था। वो अपने कपड़े धुलवाने के लिए पत्नी कुसुम से बोल रहा था।इस पर पत्नी से विवाद हो गया था। पहले उसने डंडे से मारपीट की। इसके बाद बंदूक के बट से मारा। आरोपी ने पुलिस को बताया की आए दिन इस तरह घर में होता रहता था। उस दिन कुछ ज्यादा ही पत्नी के साथ मारपीट हो गई। इस वजह से मौत हो गई। मौत के बाद पत्नी कुसुम के शव को ट्रैक्टर के सहारे खेत में कुआं के पास दफना दिया। घटना वाले दिन बेटी घर पर मौजूद थी उसे भी जान से मारने की धमकी दे डाली। पिता द्वारा मां की हत्या करने के बाद बेटी को अपनी ससुराल भेज दिया। इसके बाद तीन दिन तक आराम से घर के अंदर आरोपी अपनी मां विशना देवी के साथ रहा। घटना के बाद कुसुम का बेटा आशीष और कुसुम की मां एवं उसका भाई विनोद निवासी ग्वालियर लगातार फोन लगा रहे थे। परंतु कुसुम से किसी की बात नहीं हो पा रही थी। इसके बाद मृतिका के बेटे आशीष ने गांव में संपर्क किया। इसके बाद घटना की जानकारी आशीष को लगी। आशीष ने अपने मामा विनोद की मदद से पुलिस को जानकारी दी थी। यह खबर लगते ही आरोपी गांव से फरार हो गया। आरोपी मुन्नूपाल ने अपने छोटे बेटे आशीष को भी गोली मारने की धमकी दे डाली।पुलिस का कहना है कि आरोपी अपनी मां विशना देवी से बेहद प्रेम करता है। इसके अलावा वाे परिवार में किसी से संपर्क नहीं रखता। पुलिस, जब खेत में शव की तलाश में खुदाई कर रही थी तब बार-बार शव तलाशने में असफल हो रही थी। इस दौरान पुलिस ने आरोपी की मां से कहा कि अपने बेटे को फोन करके शव कहा गाड़ा है यह पूछो । मां विशना देवी के पूछने पर आरोपी ने शव दफनाने की सही जगह बताई थी। हवालात में बार-बार आरोपी पुलिस से कहता रहा- मेरी मां को छोड़ दो।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top