Now Reading
बाढ़ से बेहाल मध्य प्रदेश, अब तक 24 लोगों ने तोड़ा दम, हजारों गांव प्रभावित, NDRF की 8 यूनिट बचाव कार्य में जुटीं

बाढ़ से बेहाल मध्य प्रदेश, अब तक 24 लोगों ने तोड़ा दम, हजारों गांव प्रभावित, NDRF की 8 यूनिट बचाव कार्य में जुटीं

भोपाल। मध्यप्रदेश में बीते एक हफ्ते से मानसून ने विकराल रूप धारण कर लिया है. प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में रुक-रुक कर लगातार हो रही बारिश का सबसे बुरा असर निचले इलाकों और नदी से सटे जिलों पर पड़ा है. राज्य में बाढ़ और उससे जुड़ी घटनाओं में अब तक 24 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 1250 गांव बाढ़ की चपेट में आने से बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं.प्रदेश में लगातार हो रही भारी बारिश से ग्वालियर, शिवपुरी, श्योपुर, दतिया, गुना, अशोकनगर, भिंड और मुरैना में काफी नुकसान हुआ है. इन जिलों के गांव में बाढ़ की स्थिति बनने से किसानों को भारी नुकसान का सामना करना पड़ा है. हालांकि, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ, वायुसेना और सेना की मदद से बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने का काम लगातार किया जा रहा है.

एमपी में अब तक 8800 लोगों को रेस्क्यू
मीडिया रिपोर्ट से मिले आंकड़ों के मुताबिक, मध्यप्रदेश में बाढ़ के खतरे को देखते हुए लगभग 29 हजार लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया गया था, जबकि बाढ़ प्रभावित इलाकों से अबतक 8800 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है. यहां अलग-अलग इलाकों में राहत और बचाव कार्य के लिए सरकार ने एनडीआरएफ की आठ यूनिट तैनात की है. इसके अलावा एयरफोर्स के 3 हेलीकॉप्टर और एसडीआरएफ की 29 टीम तैनात हैं. इसके साथ ही बता दें कि प्रदेश के अगल-अलग इलाकों में पानी के तेज बहाव और बाढ़ के कारण करोड़ों की सार्वजनिक संपत्ति का भी नुकसान हुआ है.

 


 

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top