Now Reading
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने खुद देखा तबाही का मंजर, कहा हर दुख-दर्द में साथ है बीजेपी बोली- हवाई नहीं घर-घर करें सर्वे

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने खुद देखा तबाही का मंजर, कहा हर दुख-दर्द में साथ है बीजेपी बोली- हवाई नहीं घर-घर करें सर्वे

ग्वालियर()। ग्वालियर चंबल अंचल में बाढ़ के बाद अब सियासी घमासान बढ़ गया है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बाद आज शनिवार को मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई दौरा करने के लिए पहुंचे हैं.कमलनाथ के हवाई दौरे पर कटाक्ष करते हुए बीजेपी ने कहा कि अगर कमलनाथ जनता के सच्चे हमदर्द है तो सड़क मार्ग से आए और हालातों का जायजा ले.सिर्फ छत से दौरा करने से कुछ नहीं होता. कमलनाथ ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्वदतिया जिले में बाढ़ में बह गये पुल का भी मुआयना किया. कमलनाथ ने कहा कि प्राकृतिक आपदा के साथ-साथ शिवराज की देन भ्रष्टाचार जनित आपदा भी प्रदेश की जनता को निगल रही है.प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ग्वालियर-चंबल संभाग में आयी बाढ़ से हुए नुक़सान का मुआयना करने और प्रभावितों से मुलाक़ात करने ग्वालियर से निकल चुके हैं कमलनाथ ने कहा कि “हर दुख-दर्द में साथ है मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने दतिया में बाढ़ से आयी भीषण तबाही का मुआयना किया एवं बाढ से टूटे पुल क्षेत्र का भी भ्रमण किया।पूर्व CM कमलनाथ 9.40 बजे ही ग्वालियर एयरपोर्ट पर पहुंच गए. यहां से हेलिकॉप्टर के जरिए वह दतिया के लिए रवाना हो गए.दतिया जिले में बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे करने के बाद वह मीडिया से चर्चा की.इसके बाद शिवपुरी जिले के इलाको में हवाई सर्वे करेंगे फिर श्योपुर जिले का दौरा भी करेंगे।कमलनाथ ने ग्वालियर पहुंचने के दौरान ग्वालियर के किसी भी नेता से मुलाकात नहीं की है.उनसे मुलाकात या प्रोटोकॉल के चलते कांग्रेस जिलाध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा और अन्य वरिष्ठ नेता एयरपोर्ट पहुंचे थे.वह प्लेन से उतरे और हेलिकॉप्टर में सवार होकर निकल गए. उनके साथ पूर्व मंत्री डॉ. गोविंद सिंह भी मौजूद थे.

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top