Now Reading
मुरैना में प्रभारी मंत्री बाढ़ ग्रस्त इलाकाें का दाैरा करने निकले, दिमनी पुल में आई दरार, दाेनाें तरफ लगी वाहनाें की कतार

मुरैना में प्रभारी मंत्री बाढ़ ग्रस्त इलाकाें का दाैरा करने निकले, दिमनी पुल में आई दरार, दाेनाें तरफ लगी वाहनाें की कतार

मुरैना। चंबल का जल स्तर प्रशासन एवं आमजन के लिए चिंता का कारण बना हुआ है। उधर क्वारी नदी में आई बाढ़ के कारण दिमनी पुल क्षतिग्रस्त हाे गया था। जिसके कारण मुरैना अंबाह हाइवे पर दाेनाें तरफ वाहनाें की कतार लग गई है। उधर सिंध नदी के बढ़ते जलस्तर ने भितरवार में आम जनजीवन काे अस्त व्यस्त कर दिया है। जिले के प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट बाढ़ पीड़ित इलाकाें का दाैरा करने के लिए गुरुवार काे रवाना हाे चुके हैं। वह भितरवार में बाढ़ पीड़ित लाेगाें से मुलाकात भी करेंगे। साथ ही राहत कार्याें का जायजा लेंगे।

सिंध नदी के बहाव के कारण भितरवार सहित आसपास का इलाका बुरी तरह से प्रभावित हुआ था। यहां से रेस्क्यू करके निकाले गए लाेगाें के रहने की व्यवस्था प्रशासन ने लखेश्वरी मंदिर में की है। यहां लाेगाें के खाने एवं पानी का भी प्रबंध किया गया है। बीते राेज गृह मंत्री नराेत्तम मिश्रा ने बाढ़ पीड़ित लाेगाें से मुलाकात की थी। इसके बाद अब जिले के प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट बाढ़ पीड़ित इलाकाें का दाैरा करने के लिए ग्वालियर पहुंचे हैं। वह गुरुवार की सुबह प्रशासन एवं पुलिस अधिकारियाें के साथ भितरवार के लिए रवाना हाे चुके हैं। यहां वह नाव के जरिए बाढ़ पीड़ित इलाकाें में पहुंचकर स्थिति का जायजा लेंगे।

चंबल का जल स्तर नहीं हुआ कमः मुरैना में चंबल नदी का जल स्तर लगभग दस घंटे से समान स्थिति में है। चंबल यहां पर खतरे के निशान से सात मीटर ऊपर बह रही है। इसी वजह से आगरा-मुंबई हाइवे पर एक लेन काे बंद भी करना पड़ा है। वहीं पुराने पुल पर भी पांच फीट पानी बह रहा है। वहीं बुधवार की शाम दिमनी पुल के एक हिस्से में दरार आ गई थी। इसके बाद भारी वाहनों को रोक दिया गया। इस हाइवे से आवागमन बंद होने से मुरैना जिले का अंबाह, पोरसा और भिंड के कई क्षेत्रों से संपर्क कट गया है। हाइवे पर दोनों ओर भारी वाहनों की लंबी कतार लगी हुई है।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top