Now Reading
दरवाजे पर दूल्हे को कार, ससुर को 10 लाख रुपए शगुन, मांग पूरी नहीं हुई तो तोड़ा रिश्ता

दरवाजे पर दूल्हे को कार, ससुर को 10 लाख रुपए शगुन, मांग पूरी नहीं हुई तो तोड़ा रिश्ता

ग्वालियर । दहेज मांग की एक अनोखी डिमांड सामने आई है। अभी तक आपने अपने लिए कार, कैश और गहने की मांग के मामले तो बहुत सुने होंगे, लेकिन कभी ऐसा सुना है कि ससुराल पक्ष ने बारातियों का स्वागत एक-एक सोने की अंगूठी और 500-500 रुपए के नोट से करने की मांग रखी हो। इतना ही नहीं बारात से पहले दूल्हे के लिए लग्जरी कार और होने वाले ससुर के लिए 10 लाख रुपए के शगुन करने की मांग रखी हो।

एक साथ इतनी मांग सुनकर लड़की के पिता ने हाथ जोड़कर उस पर रहम की भीख मांगी। जिस पर लड़के वालों ने तय हो चुका रिश्ता तोड़ दिया। पीड़ित परिवार ने पहले पंचायत जोड़ी फिर पुलिस के पास पहुंचे। पुलिस ने लड़का, उसके मां-पिता व बहन, भाई पर मंगलवार को मामला दर्ज कर लिया है।

थाटीपुर के कुम्हरपुरा निवासी 22 साल की मिथलेश कुमारी की सगाई मरीमाता महलगांव निवासी विक्की उर्फ विकास पुत्र लालजी दास से हुई थी। शादी तय करते समय विकास को इंजीनियर बताया गया था। साथ ही यह भी कहा था कि उसका ललितपुर कॉलोनी में मेडिकल स्टोर है। सभी बातें तय होने के बाद 6 दिसम्बर 2021 को शादी होना तय हुआ था। शादी से पहले 28 मई को सगाई की रस्म हुई। इसके बाद दोनों परिवारों की सहमति से जीवाजी क्लब गार्डन से शादी का समारोह होना तय हुआ था। जीवाजी क्लब का गार्डन बुक करने के साथ ही हलवाई भी बुक कर दिया गया था। अभी सब कुछ ठीक चल रहा था। मिथलेश अपने नए जीवनसाथी विकास के साथ भविष्य के सपने देखने लगी।

घर आए और मांगा दहेज
सगाई के कुछ दिन बाद ही विकास और उसके पिता लालजी, मां राजाबेटी, विकास का भाई देवेन्द्र और बहन मोना होने वाली बहू मिथलेश के घर आए। यहां बताया कि शादी में उन्हें कुछ जरूरी मांग रखनी है। मिथलेश के परिजन के पूछने पर विकास ने बताया कि जितने भी बाराती आएंगे सभी का स्वागत एक-एक सोने की अंगूठी और 500-500 रपए मिलनी के साथ होना चाहिए।

इतना ही नहीं बारात आने से पहले मेरे (दूल्हे) के लिए सफारी कार दरवाजे खड़ी होनी चाहिए। होने वाले ससुर के लिए दरवाजे पर 10 लाख रुपए का सगुन होना चाहिए। अचानक इतनी बड़ी डिमांड आने पर पूरा परिवार परेशान हो गया और उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं माने रिश्ता तोड़कर चले गए।

पंचायत में आने से किया इनकार
पीड़ित परिवार ने बात बनाने के लिए समाज के लोगों को साथ लेकर 1 अगस्त को पंचायत लगाई। आरोपियों ने पंचायत में आने से इनकार कर दिया। सभी को जान से मारने की धमकी दी। धमकी का शिकार परिवार थाने पहुंचा और मामले की शिकायत की। थाना प्रभारी थाटीपुर आरवीएस विमल ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का मामला दर्ज किया गया है।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top