Now Reading
लक्ष्मी नारायण मंदिर में 2 दिन मनेगी गुरु पूर्णिमा   दिल्ली मुंबई कोलकाता से चरण पादुका के दर्शन करने आते हैं भक्त

लक्ष्मी नारायण मंदिर में 2 दिन मनेगी गुरु पूर्णिमा   दिल्ली मुंबई कोलकाता से चरण पादुका के दर्शन करने आते हैं भक्त

भक्तों की संख्या अधिक होने के कारण इस वर्ष नहीं होगा भंडारा

ग्वालियर।
हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर जनक गंज में गुरु पूर्णिमा पर्व बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा इस बार  कोरोना गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए और पंचांग के हिसाब से गुरु पूर्णिमा  पर्व  2 दिन मनाया जाएगा क्योंकि पंचांग में बताया गया है कि कल पूर्णमासी है इसलिए पूर्णिमा 23 से शुरू होकर 24 तक है इसमें 23 तारीख को सुबह भगवान श्री लक्ष्मी नारायण का अभिषेक होगा उसके बाद प्रभु श्री लक्ष्मी नारायण जी का विशेष श्रृंगार होगा तत्पश्चात 4:00 बजे से गुरु शिष्य परंपरा का पर्व मनाया जाएगा जिसमें लक्ष्मी नारायण के महंत श्री बाबा महाराज की चरण पादुका का पहले भक्त और मंदिर कमेटी के द्वारा अभिषेक होगा उसके बाद क्रमबद्ध तरीके से पूजन किया जाएगा ।
गौरतलब है  हर साल करीब एक हजार भक्त देश के अलग-अलग हिस्सों से आकर प्रभु की चरण पादुकाओं का पूजन करते हैं भक्तों की संख्या को देखते हुए और कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए मंदिर कमेटी ने यह निर्णय लिया है कि इस बार गुरु पूर्णिमा उत्सव 2 दिन मनाया जाए जिससे मंदिर में अत्यधिक भीड़ ना हो इसलिए इस बार भक्तों को भी दो बार में बांटा गया है जिसमें शहर के भक्त 23 तारीख को चरण पादुका का पूजन करेंगे और जो भक्त बाहर से आ रहे हैं वह 24 तारीख को पूजन कर सकेंगे साथ ही हर वर्ष होने वाला भंडारे को भी इस बार  विराम दिया गया है उसकी जगह मंदिर में पूजन उपरांत व्रत खोलने वाले भक्तों के लिए मालपुए पकौड़ी और चाय का वितरण किया जाएगा पूजन रात 10:00 बजे   तक होगा ।10:30 बजे  माह आरती होगी उसके बाद मंदिर के पट बंद कर दिए जाएंगे और यही क्रम अगले दिन के लिए रहेगा।
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top