Now Reading
मानसून सत्र का दूसरा दिन: मोदी का तंज- कांग्रेस को अपनी नहीं, हमारी चिंता; विपक्ष ने राज्यसभा में काम रोको प्रस्ताव का नोटिस दिया

मानसून सत्र का दूसरा दिन: मोदी का तंज- कांग्रेस को अपनी नहीं, हमारी चिंता; विपक्ष ने राज्यसभा में काम रोको प्रस्ताव का नोटिस दिया

आज संसद के मानसून सत्र का दूसरा दिन है। सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले भाजपा संसदीय दल की मीटिंग हुई। मीटिंग में प्रधानमंत्री मोदी ने पार्टी नेताओं से कहा, ‘सत्य को बार-बार जनता तक पहुंचाइए, सरकार के काम के बारे में बताइए। कांग्रेस सब जगह खत्म हो रही है, लेकिन उन्हें अपने बजाय हमारी चिंता ज्यादा है।

मीटिंग में PM मोदी ने कहा, ‘कोरोना हमारे लिए राजनीति नहीं, मानवता का विषय है, पहले महामारी के दौरान महामारी से कम और भूख से ज्यादा लोग मरते थे। हमने ऐसा नहीं होने दिया। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी नेताओं से कहा, ‘वैक्सीनशन सेंटर पर जाना, पीएम के मन की बात बूथ पर जाकर सुनना। गरीब कल्याण योजना पर लोगों तक जानकारी पहुंचाएं, सांसदों को गुरु पूर्णिमा के दिन धर्मगुरुओं के पास जाने को भी कहा गया।

संसद में जासूसी पर हंगामे के आसार
संसद के मानसून सत्र का पहला दिन हंगामे की भेंट चढ़ गया। इसके बाद लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने कार्यवाही मंगलवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी। कुछ यही हाल राज्यसभा का भी रहा। आज फोन हैकिंग को लेकर पेगासस प्रोजेक्ट पर मीडिया रिपोर्ट दोनों सदनों में हंगामे की वजह बन सकती है। इसको लेकर कांग्रेस सांसद मणिकम टैगौर ने लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव के लिए तो आम पार्टी के सांसद संजय सिंह ने राज्यसभा में जीरो ऑवर में चर्चा के लिए नोटिस दिया है।

आज शाम को 6 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सर्वदलीय बैठक भी करने वाले हैं। इस बैठक में कोरोना की तैयारियों को लेकर सरकार विपक्ष के सामने प्रेजेंटेशन दे सकती है। सरकार वैक्सीनेशन को लेकर आगे की तैयारियों के बारे में रोडमैप साझा कर सकती है। इसके साथ ही कोरोना की तीसरी लहर की तैयारियों को लेकर भी मीटिंग में चर्चा हो सकती है।

पहले दिन पेगासस रिपोर्ट पर हंगामा हुआ
कोरोना मैनजमेंट, किसान आंदोलन, डीजल-पेट्रोल की बढ़ती कीमतों और राफेल विमान मामले को लेकर विपक्ष ने सरकार को घेरा। अभी सरकार संभलती, इससे पहले ही इजरायली स्पायवेयर पेगासस फोन जासूसी के मामले जमकर हंगामा हुआ। बाद में सरकार का पक्ष रखने आईटी मिनिस्टर अश्विनी वैष्णव सामने आए। अमित शाह और रविशंकर प्रसाद ने भी विपक्ष पर निशाना साधा। लिस्ट में कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रशांत किशोर का भी नाम आने पर विपक्ष ने अमित शाह के इस्तीफे की मांग की।

रिपोर्ट में दावा- मोदी के मंत्री भी हैकिंग के दायरे में
रिपोर्ट में कहा गया है कि न सिर्फ कांग्रेस के नेता बल्कि केंद्रीय संस्कृति मंत्री प्रह्लाद पटेल और संसद में सरकार का बचाव करने वाले IT मिनिस्टर अश्विनी वैष्णव के फोन भी हैकिंग टारगेट थे। रिपोर्ट में जिन नामों का जिक्र किया गया है, उनमें से प्रमुख लोग ये हैं..

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top