Now Reading
लोकायुक्त ने NRHM के इंजीनियर को हबीबगंज स्टेशन के बाहर 2 लाख कैश और 1 लाख का चेक लेते पकड़ा, बिल पास करने के बदले मांगी थी घूस

लोकायुक्त ने NRHM के इंजीनियर को हबीबगंज स्टेशन के बाहर 2 लाख कैश और 1 लाख का चेक लेते पकड़ा, बिल पास करने के बदले मांगी थी घूस

लोकायुक्त ने भोपाल के हबीबगंज स्टेशन के बाहर नेशनल रूरल हेल्थ मिशन (NRHM) के इंजीनियर को 3 लाख रुपए (2 लाख नकद और 1 लाख रुपए का चेक) रिश्वत लेते हुए मंगलवार काे दबोचा है। आरोपी ने सिवनी जिला अस्पताल में 40 लाख रुपए के मेंटेनेंस बिल को पास करने के एवज में 10% की घूस मांगी थी। इंजीनियर ने पिछले एक साल से 5 लाख रुपए का आखिरी बिल अटका कर रखा था।

लोकायुक्त एसपी अनिल विश्वकर्मा के मुताबिक, 15 जुलाई को साईं विहार कॉलोनी सुहागी अधारताल जबलपुर निवासी चंद्रभान विश्वकर्मा ने शिकायत की थी। चंद्रभान कांट्रेक्टर हैं। उन्होंने एक साल पहले सिवनी जिला अस्पताल में 40 लाख रुपए मेंटेनेंस का काम कराया था। इसका ठेका सतपुड़ा भवन स्थित राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन भोपाल से हुआ था। वहीं से बिल भी पास होना था।

एक साल से बिल पास करने के लिए दौड़ा रहा था इंजीनियर
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, भोपाल में तैनात प्रभारी एक्जिक्यूटिव इंजीनियर ऋषभ जैन (58) पिछले एक साल से बिल भुगतान के लिए दौड़ा रहा था। ठेकेदार चंद्रभान विश्वकर्मा के मुताबिक, 35 लाख रुपए का बिल अलग-अलग पास हो चुका था। आखिरी के 5 लाख रुपए के लिए ऋषभ जैन परेशान कर रहा था। भुगतान के एवज में 10% कमीशन मांग रहा था। उन्होंने बताया कि एक लाख रुपए वह दे चुका है। तीन लाख रुपए और मांग रहे थे।

16 जुलाई को कराई रिकॉर्डिंग
लोकायुक्त एसपी ने शिकायतकर्ता को रिकॉर्डर देकर 16 जुलाई को आरोपी के पास भोपाल भेजा। वहां उनकी बातचीत को ट्रैप कराया। आरोपी ने रुपए लेकर 20 जुलाई की सुबह हबीबगंज स्टेशन के बाहर चंद्रभान विश्वकर्मा को बुलाया था। एसपी के निर्देश पर डीएसपी दिलीप झरबड़े की अगुवाई में टीआई स्पनिल दास गुप्ता, कमल सिंह उईके, नरेश बहरा, भूपेंद्र दीवान आरक्षक दिनेश दुबे, अमित मंडल, जीत सिंह की टीम ठेकेदार को लेकर सड़क मार्ग से भोपाल पहुंची।

इंजीनियर ने की भागने की कोशिश
आरोपी ऋषभ जैन ने ठेकेदार चंद्रभान विश्वकर्मा को हबीबगंज स्टेशन पर बुलाया था। सुबह नौ बजे चंद्रभान ने वहां पहुंचने की बात कही। चंद्रभान ने ट्रेन से आने के बारे में बताया था। सफेद कुर्ता पायजामा पहने ऋषभ जैन पहुंचा और जैसे ही रिश्वत की रकम ली, वहां मौजूद लोकायुक्त की टीम ने उसे दबोच लिया। आरोपी ने हाथ छुड़ाकर भागने की भी कोशिश की, लेकिन टीम ने पकड़ लिया।

आरोपी को लेकर टीम पीडब्ल्यूडी के सर्किट हाउस पहुंची। वहां के कमरा नंबर 18 में आरोपी के खिलाफ आगे की कार्रवाई की गई। लोकायुक्त टीम ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम का प्रकरण दर्ज कर लिया है। लोकायुक्त एसपी अनिल विश्वकर्मा के मुताबिक, आरोपी की आय की भी जांच की जाएगी।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top