Now Reading
लखनऊ में ATS का ऑपरेशन , 2 टेररिस्ट गिरफ्तार, भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद; सीरियल ब्लॉस्ट का था प्लान

लखनऊ में ATS का ऑपरेशन , 2 टेररिस्ट गिरफ्तार, भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद; सीरियल ब्लॉस्ट का था प्लान

लखनऊ के काकोरी थाना क्षेत्र के दुबग्गा इलाके में UP ATS पांच घंटे से सर्च ऑपरेशन चला रही है। इसमें ATS कमांडो भी शामिल हैं। यहां ATS को एक गैराज में अलकायदा के आतंकियों के छिपे होने का इनपुट मिला था। इसके बाद की कार्रवाई में दो आतंकियों अब तक पकड़ गया है। जबकि तीन घरों में कमांडो तलाशी कर रहे हैं। बड़ी मात्रा में गोला-बारूद बरामद होने की भी सूचना है। ATS ने आसपास के 500 मीटर दायरे में बने घरों को खाली करा लिया है। पूरे इलाके को सील कर दिया गया है। स्थानीय पुलिस भी मौके पर है।

ATS अफसरों के मुताबिक ऑपरेशन खत्म होने के बाद दी ही कुछ बोला जा सकता है। बम बनाने के सामान मिलने की भी सूचना है। बम निरोधक दस्ता भी मौके पर बुलाया गया है। बताया जाता है कि आतंकी कई शहरों में सीरियल ब्लास्ट के फिराक में थे। कुछ बड़े नेता भी निशाने पर थे। हालांकि ATS ने अभी तक कुछ नहीं बताया है। शाम को प्रेस कॉन्फ्रेंस में घटना खुलासा हो सकता है।

परिवार वालों से भी हो रही है पूछताछ

ATS ने जिन आतंकियों को पकड़ा है, उनके नाम शाहिद और वसीम। जबकि रियाज और सिराज के घरों में तलाशी चल रही है। सभी से पूछताछ भी हो रही है। शाहिद के मकान को सीज किया गया है। कमांडो घर के अंदर हैं। तीनों के घर सटे हुए हैं। शाहिद के परिवार वालों से पूछताछ जारी है।

पहले आतंकी का नाम शाहिद उर्फ गुड्डू बताया जा रहा है, जो उन्नाव का रहने वाला है। उसी के घर में दूसरा आतंकी भी छिपा हुआ था। दोनों ट्रेनिंग प्राप्त आतंकी हैं। घर में काफी गोला-बारूद होने की भी सूचना है। ATS की टीम उन्नाव भी रवाना हो गई है।

लखनऊ का आतंकी कनेक्शन- 2017 में भी आतंकी मार गिराया गया था

  • मार्च 2017 में सुरक्षा बलों ने लखनऊ में छिपे आतंकी सैफुल्ला को मार गिराया था, जो आइएसआइएस के खुरासान माॅड्यूल का सदस्य था। वह कानपुर का रहने वाला था। वारदात के बाद कानुपर और उन्नाव में भी कई आतंकियों की गिरफ्तारी हुई थी।
  • सितंबर 2018 में चकेरी के जाजमऊ अहिरवां स्थित शिवनगर कॉलोनी पकड़े गए हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी कमरुज्जमां उर्फ कमरुद्दीन उर्फ डॉ. हुरैरा को गिरफ्तार किया था।
  • एनआइए और एटीएस को पूछताछ में इसने एक और आतंकी ओसामा बिन जावेद का नाम लिया था, जो हिजबुल मुजाहिद्दीन का कमांडर था। सितंबर 2019 में जिसे जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों ने मार गिराया था।
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top