Now Reading
दिग्विजय सिंह बोले- राफेल की जांच फ्रांस में शुरू हो गई, लेकिन भारत के कमिश्नखोर की जांच नहीं हो रही है, इससे समझें मोदी जी का कितना कमीशन होगा

दिग्विजय सिंह बोले- राफेल की जांच फ्रांस में शुरू हो गई, लेकिन भारत के कमिश्नखोर की जांच नहीं हो रही है, इससे समझें मोदी जी का कितना कमीशन होगा

कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने देश में बढ़ती महंगाई को लेकर बीजेपी सरकार को घेरा। उन्होंने कहा पेट्रोल-डीजल, रसोई गैस और खाद्य पदार्थों के बढ़ते दामों से जनता त्रस्त है। 7 महीने में ही सिलेंडर के दाम 350 रुपए महंगा हो गया है। राहुल गांधी मोदी सरकार को सही कहते थे कि यह तो सूट बूट की सरकार है। यह सब आज नजर आ रहा है। राफेल मामले में फ्रांस ने जांच शुरू कर दी, लेकिन भारत के कमिश्नखोर की जांच नहीं हो रही है। इससे आप समझ सकते हैं। मोदी जी का कितना कमीशन होगा। यह बहुत बड़ा भ्रष्टाचार है। बोफार्स मामले में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने तत्काल टीम गठित की थी। आज तक एक भी प्रमाण के खिलाफ नहीं मिले। मोदीजी में दम है तो वे भी कमेटी गठित कर दें।

गांधी हाल में मीडिया से चर्च करते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि गरीब और मध्यमवर्गीय परिवार मंहगाई से त्रस्त है। रोजगार नहीं है। खाने का तेल, अनाज, दाल सभी खाद्य सामग्री मंहगी होती जा रही हैं। गैस सिलेंडर 7 महीने में 350 रुपए महंगा हो गया। ऐसे में मोदी सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले केंद्र के टैक्स को बेतहाशा बढ़ा दिया है। 2014 में जो टैक्स पेट्रोल पर साढ़े 9 रुपए प्रति लीटर और डीजल पर साढ़े 3 रुपए लीटर लगता था, उसे बढ़कर 33 रुपए लीटर कर दिया है। यदि इस टैक्स को कम कर दें तो 30 रुपए डीजल और पेट्रोल पर 25 रुपए कम हो जाएंगे। टैक्स बढ़ाकर इन्होंने जनता से साढ़े 4 लाख करोड़ रुपए वसूल लिए।

किस पर क्या कहा…

  • सिंधिया : ज्योतिरादित्य सिंधिया जी को यदि केंद्रीय मंत्री बनाया जा रहा है तो उन्हें बहुत बधाई।
  • 2023 के चुनाव में कांग्रेस का चेहरा : कमलनाथ जी हमारे अध्यक्ष हैं।
  • नेमावर हत्याकांड : फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामला चले। आरोपियों को जल्द फांसी की सजा हो। जिस तरह से निर्भय केस में सुनवाई हुई थी। उसी तरह से इसे भी चलाया जाए। कांग्रेस का नाम आने को लेकर कहा कि उन फोटो का क्या करोगे जो सीएम के बेटे के साथ हत्यारे नजर आ रहे हैं। कमल पटेल के साथ नजर आ रहे हैं। वहां के विधायक आशीष शर्मा के साथ भी वे दिख रहे हैं। भाजपा झूठ बोलने में माहिर है। इसलिए उनका भरोसा मत करना।
  • अवैध खनन : इंदौर में आईआईटी की जमीन पर अवैध खनन हो रहा था। सरकार का माइनिंग अमला गया। केस पकड़ा, तभी मंत्री जी का फोन गया कि छोड़ दो तो छोड़ दिया गया। नर्मदा नदी में ठेके में यह निर्णय हुआ है कि किसी भी मशीन का नदी में उपयोग नहीं किया जाएगा। वहां खुलेआम मशीनें चल रही हैं। अवैध खनन जमकर हो रहा है। यहां पर सभी का मिला-जुला हिस्सा है, इसलिए अवैध खनन जोरों पर है।
  • टैक्स को लेकर : आम आदमी से टैक्स की वसूली बढ़ गई है, लेकिन बड़े-बड़े उद्योगपतियों का टैक्स कलेक्शन कम हो गया। राहुल गांधी सही कहते थे, यह सूट बूट की सरकार है। बड़े लोगों से टैक्स वसूली कम करने के कारण आज आम आदमी मंहगाई की मार झेल रहा है।
  • राफेल प्रकरण : जहां भ्रष्टाचार का पैसा दिया गया, उस फ्रांस में जांच शुरू हो गई। लेकिन जहां से लिया गया, भारत का कमीशखोर जो भी हो वहां रुपए नहीं लिया गया। अब समझ सकते हैं कि माेदी जी का इसमें कितना हिस्सा है। एक हवाई जहाज की कीमत 1 करोड़ रुपए बढ़ी। जितनी कीमत में हम 126 राफेल खरीद रहे थे, उससे ज्यादा कीमत में अब सिर्फ 36 हवाई जहाज ही हमारे पास आ रहे हैं। यह बहुत बड़े भ्रष्टाचार का प्रकरण है।
  • बोफाेर्स मामला : पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने एक कमेटी का गठन किया था। उस मामले में एक भी प्रमाण आज तक सामने नहीं आए। यदि मोदी जी में हिम्मत है तो वे एक कमेटी को गठित करें।
  • कोरोना को लेकर : सभी से यही अपील है कि लॉकडाउन खुला है। कोरोना नहीं गया है। इसलिए मास्क पहने, सोशल डिस्टेंसिंग रखें। वैक्सीन लगवाएं।
  • हिंदू-मुस्लिम मामले में : इन्होंने हमेशा हिंदू-मुसलमानों के बीच फर्क किया है। हमारा सनातन धर्म सबको एक समान मानता है। कांग्रेस तो हमेशा से कहता रहा है कि हम सब एक हैं। यही फर्क डालते रहे। इसका उत्तर बीजेपी, आरएसएस, बीएचपी और बजरंग दल के नेताओं से पूछिए।
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top