Now Reading
कैंसर से जूझ रही चाहत को मदद की दरकार, मुंबई में चल रहा इलाज, एक पैर भी कटा, 13 बार होनी है कीमोथैरेपी

कैंसर से जूझ रही चाहत को मदद की दरकार, मुंबई में चल रहा इलाज, एक पैर भी कटा, 13 बार होनी है कीमोथैरेपी

ग्वालियर। डबरा तहसील में ग्राम सिंहौली में रहने वाली चाहत भाइयों के साथ साइकिल चलाने के दौरान गिर गई। बाएं पैर में दर्द हुआ तो परिजनों ने डॉक्टर को दिखाया लेकिन आराम नहीं मिला। चाहत की स्थिति को देखते हुए डॉक्टर ने उनके परिजनों को मुंबई के अस्पताल भेजा। वहां पता चला कि उनकी बेटी कैंसर की बीमारी से पीड़ित है। चाहत का इलाज जनवरी 2020 से मुंबई के अस्पताल में चल रहा है। 28 बार कीमोथैरेपी होने के बाद भी संक्रमण के नियंत्रण में नहीं आने के कारण 5 अगस्त 2020 को डॉक्टरों को मजबूरन चाहत का बायां पैर काटना पड़ा। तंगहाली से जूझ रहे नीलेश कुमार मिश्रा की आर्थिक स्थिति इतने बड़े स्तर पर बेटी का इलाज कराने की नहीं थी। लेकिन उनकी पीड़ा और बेटी की स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने अपने स्तर पर ही इलाज का पैसा एकत्र किया। चाहत को अभी 13 बार और कीमोथैरेपी देना है। पैर काटने के बाद घाव सूख नहीं पाया है, इस कारण चाहत को कृत्रिम पैर भी नहीं लग सका है। शेष इलाज के लिए उन्हें 4 माह और मुंबई में रहना पड़ेगा। बेटी के इलाज को लेकर परेशान श्री मिश्रा को उम्मीद है कि उनकी बेटी के इलाज के लिए लोग मदद को आगे आएंगे।  रोटेरियन राममोहन त्रिपाठी ने  अपनी फेसबुक पर लिखा है कि इलाज में जो भी व्यक्ति सहयोग प्रदान करना चाहते हैं, वे उनके मोबाइल नंबर 6390360211 पर संपर्क कर सकते हैं।
सहयोग हेतु बैंक खाता विवरण निम्नलिखित है–
Bank: Punjab National Bank,Garh Road,Meerut. A/c no:”7982000100027365″. A/c holder: Anshuman Mishra
(patients brother).
IFSC code: PUNB0798200.
पेटीएम/गूगलपे/फ़ोनपे के माध्यम से सहयोग हेतु खाताधारक का नंबर 7302344999 है।
किसी अतिरिक्त जानकारी हेतु बच्ची के पिता श्रीनीलेशजी मिश्रा ( ग्वालियर ) का मोबाइल नं 6390360211 समाचार पत्र में लिखा हुआ है-

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top