Monday, January 18, 2021
ताज़ातरीनराज्य

शनिश्चरी अमावस्या पर लाखों श्रद्धालुओं ने किये शनिदेव के दर्शन , ऐंती पर्वत पर पहुंचे कई राज्यों के श्रद्धालु

कोरोना महामारी के कारण नहीं लगा मेला
मुरैना जिले में मृत्युलोक के न्यायाधीश सूर्य पुत्र शनिदेव का देश ही नहीं, विश्व का इकलौता मंदिर मुरैना के रिठौरा थाना क्षेत्र के ग्राम ऐती के पास पर्वत पर स्थित है। यहां प्रत्येक शनिश्चरी अमावस्या के दिन लाखों श्रद्धालु देश के कोने-कोने से शनिदेव के दर्शन के लिए आते हैं। इस बार शनि अमावस्या दीपावली के दिन मनाई जा रही है जिसके कारण यहंा बडी संख्या में भक्तगण भगवान शनिदेव के दर्शन करने पहंुच रहे हैं हालंाकि कारोना महामारी के करण इस बार मेले का आयेाजन नहीं किया गया है और प्रशासन द्वारा यहंा सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन कराने विशेष इंतजाम किए गए हैं। मंदिर में विराजमान शनिदेव की प्रतिमा त्रेतायुग के रामायण काल की है। शनिदेव की मूर्ति स्थापना चक्रवर्ती सम्राट विक्रमादित्य ने की थी एवं सम्राट विक्रमादित्य से ही शनिदेव की प्रतिमा के सामने हनुमानजी की मूर्ति की स्थापना की।

Leave a Reply