Sunday, January 17, 2021
ताज़ातरीनराजनीतिराज्य

जिस आइटम के मुद्दे पर भाजपा ने प्रदेश में किया आक्रामक प्रचार वे इमरती खुद हार की राह पर

कड़े मुकाबले में फंस गईं इमरती देवी, बड़ी जीत का किया था दावा
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के ‘आइटम’ वाले बयान से सुर्ख़ियों में आई डबरा से बीजेपी प्रत्याशी इमरती देवी के चुनाव परिणाम पर सबकी नजर है| सभी 28 सीटों पर उपचुनाव में डबरा सीट सबसे ज्यादा चर्चित रही| कमलनाथ के बयान को बीजेपी ने पूरे उपचुनाव में बड़ा मुद्दा बनाया| लेकिन यहां मतगणना के हर राउंड में बदलती स्थिति ने बीजेपी की धड़कनें बढ़ा दी है| बीते तीन चुनावो में रिकॉर्ड बीस से लेकर पचास हजार मतो के भारी अंतर से जीतती रही इमरती फिलहाल 21 वे चक्र में लगभग पांच हजार से पिछड़ रही है और बस तीन चक्र शेष है।
ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक और प्रदेश सरकार में मंत्री इमरती देवी 11वें राउंड में कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे से 612 वोटों और 12वें राउंड में 1996 वोटों से पिछड़ गई। डबरा में इमरती देवी की जीत के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, ज्योतिरादित्य सिंधिया, नरोत्तम मिश्रा समेत तमाम दिग्गज नेताओं ने पूरी ताकत से प्रचार किया था|
डबरा सीट से मंत्री इमरती देवी का मुकाबला उनके समधी कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे से था| मतगणना में हर एक राउंड के बाद नतीजे बदल रहे हैं। पहले राउंड से 10वें  राउंड  तक इमरती देवी कांग्रेस प्रत्याशी से आगे रही लेकिन 11वें राउंड आते ही वह पिछड़ती जा रही है। इमरती देवी ने 20 हजार मतों से जीत का दावा किया है। लेकिन मतगणना में सामने आ रहे नतीजे अलग दिखाई दे रहे हैं।
हालांकि चुनाव अभियान शुरू होते ही लगने लगा था कि इस बार इमरती की नैया पार होना आसार नही है । उनके द्वारा की गई बातचीत के वायरल हुई वीडियो ने कई पर भाजपा को संकट में डाला । लेकिन पूर्व सीएम ने उन्हें आइटम कहा तो भाजपा ने मुद्दा झटक लिया और इसको लेकर पूरे प्रदेश में आक्रामक प्रचार किया । भोपाल में सीएम शिवराज सहित प्रदेश भर में इसके खिलाफ मौन धरना देकर इसे मुद्दा बनाया गया लेकिन मुद्दा बनना तो दूर यह मामला स्वयं इमरती देवी के लिए मददगार नही बन सका ।

Leave a Reply