Thursday, January 21, 2021
ताज़ातरीनदेश

नवरात्र और दशहरे के संयोग पर दतिया के पीतांबरा पीठ मंदिर में श्रद्धालुओं की भीड़

दतिया। पीतांबरा पीठ पर नवरात्रि के आखिरी दिन भक्तों की लंबी कतारे लग गईंं। अल सुबह 5 बजे से ही दर्शनार्थियों का आना शुरू हो गया। नवमी और दशहरा एक साथ होने के कारण बड़ी संख्या में श्रद्धालु उत्तर प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र यहां पहुंचे। नवमी और दशमी उदित तिथि के कारण एक ही दिन होने से यह संयोग बना। पीतांबरा माता के साथ ही धूमावती मां के दर्शन के लिए भी बड़ी संख्या में लोग प्रातः कालीन आरती का इंतजार करते नजर आए। रविवार को उदित तिथि होने के कारण 11 बजकर 52 मिनट तक नवमी तिथि रहेगी। इस कारण भी श्रद्धालु का पीतांबरा पीठ आने का ताता सुबह से ही शुरू हो गया।

दतिया जिला मुख्यालय से 65 कि.मी. दूर रतनगढ़ माता मंदिर पर भी श्रद्धालुओं का नवरात्रि के अंतिम दिन भारी जमावड़ा रहा। रतनगढ़ मंदिर के महंत पंडित राजेश कटारे ने बताया कि शारदीय नवरात्रि का दोपहर 12 बजे तक नवमी का दिन है। अतः श्रद्धालु यहां पर रात्रि 3 बजे से ही आना शुरू हो गए थे। सुबह आरती के साथ मंदिर के पट खोले गए। प्रातः 8 बजे तक लगभग 12 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने रतनगढ़ माता मंदिर के दर्शन कर लिए थे।

Leave a Reply