Now Reading
कमलनाथ के बयान का बचाव कर  कांग्रेस  ने शिवराज सरकार पर लगाए नए आरोप

कमलनाथ के बयान का बचाव कर  कांग्रेस  ने शिवराज सरकार पर लगाए नए आरोप

ग्वालियर। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी पर दिए गए आपत्तिजनक बयान के बाद कांग्रेस अब बचाव की स्थिति में आ गई है. कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि, बीजेपी के 7 महीने के शासन काल में महिला उत्पीड़न के मामले में प्रदेश नंबर एक पर आ गया है. कोरोना संकट काल में सरकार की गलत नीतियों के चलते आज समाज का हर तबका परेशान है. किसान, व्यापारी और छोटे उद्योग धंधे वाले सभी लोग बूरे दौर से गुजर रहे हैं. इसके अलावा टैक्स वसूलने में मध्य प्रदेश का नाम सबसे पहले श्रेणी में आता है. वहीं बीजेपी के मौन धरने को लेकर कांग्रेस ने नाटक करार दिया है.

कांग्रेस नेताओं का कहना है कि, महिला कलेक्टर के बारे में आपत्तिजनक बयान देने वाली बीजेपी अब महिलाओं के सम्मान की बात कर रही है. बीजेपी के शासन में महिला उत्पीड़न की घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि हुई है, लेकिन लोगों का ध्यान भटकाने के लिए अनावश्यक रूप से किसी बयान को मुद्दा बनाया जा रहा है. गरीब, निम्न और मध्यम वर्ग के लोगों के लिए बीजेपी बात नहीं कर रही है. मॉडल मंडी बनाए जाने के नए नियम से बहुराष्ट्रीय कंपनियों सहित बड़ी फर्मों को लाभ होगा, जबकि छोटे-मोटे कारोबारी खत्म हो जाएंगे.

कांग्रेस के पूर्व मंत्री पीसी शर्मा और पूर्व कोषाध्यक्ष गोविंद गोयल ने बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना साधा. दोनों का कहना है कि, ‘कांग्रेस के वचन पत्र में 974 बिंदु थे, जिसमें 554 बिंदुओं को पूरा किया जा चुका है. अगर बीजेपी के नेता इसे झुठलाते हैं, तो वो जनता का ध्यान भटका रहे हैं. अगर कर्ज माफी की बात बीजेपी का कोई नेता नकार रहा है, तो वह सरासर झूठ बोल रहा है.

बीजेपी को झूठी पार्टी बताते हुए कांग्रेस नेताओं ने कहा कि, ‘जनता पहले ही अपना मन बना चुकी है. वह 35-35 करोड़ रुपये में अपने वोट का सौदा करने वालों को इस उपचुनाव में सबक सिखाएगी.’

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top