Friday, January 22, 2021
ताज़ातरीनदेश

फर्जी TRP केस में नया खुलासा:FIR में रिपब्लिक टीवी का नहीं, बल्कि इंडिया टुडे का नाम

TRP यानी टेलिविजन रेटिंग पॉइंट में फर्जीवाड़ा करने के मामले में नया मोड़ आ गया है। मुंबई में TRP की जिम्मेदारी संभालने वाली कंपनी हंसा रिसर्च ग्रुप प्राइवेट लिमिटेड के डिप्टी जनरल मैनेजर नितिन देवकर ने भी FIR दर्ज करवाई है। इसकी जो कॉपी सामने आई है उसमें ‘रिपब्लिक’ नहीं बल्कि ‘इंडिया टुडे’ का नाम मेंशन किया गया है।

पुलिस का दावा- गवाह ने रिपब्लिक टीवी का नाम लिया
FIR की कॉपी सामने आने के बाद मुंबई पुलिस ने सफाई दी है। मुंबई पुलिस के ज्वाइंट कमिश्नर (क्राइम) मिलिंद भरांबे ने बताया कि हंसा की FIR में इंडिया टुडे का नाम जरूर था, लेकिन गिरफ्तार किए गए एक आरोपी ने पूछताछ में रिपब्लिक टीवी और 2 मराठी चैनलों का नाम लिया था। अभी तक जो जांच हुई है उस आधार से इन तीन चैनलों के खिलाफ सबूत मिले हैं। हमारी जांच अभी भी जारी है। अगर किसी भी चैनल के खिलाफ सबूत मिलता है तो जांच उसी हिसाब से आगे बढ़ेगी।

गुरुवार को मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दावा किया था कि रिपब्लिक टीवी और 2 मराठी चैनल फर्जी TRP हासिल करने के खेल में शामिल थे। वे पैसे देकर TRP बढ़ा रहे थे। इस मामले में मुंबई पुलिस ने 2 मराठी चैनलों के मालिक समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया था।

आज समन भेज सकती है पुलिस

इस मामले में पुलिस आज रिपब्लिक टीवी के मालिक अर्नब गोस्वामी, प्रमोटर्स और कुछ दूसरे लोगों को समन भेजकर पूछताछ के लिए बुला सकती है। कमिश्नर ने गुरुवार के इसके संकेत दिए थे। उन्होंने कहा था कि जांच का दायरा बढ़ने पर कुछ और लोगों को समन किया जा सकता है।

Leave a Reply