Now Reading
25 फीसदी तक बढ़ सकता है यात्री बसों का किराया; 18 को किराया बोर्ड की बैठक में हो सकता है फैसला

25 फीसदी तक बढ़ सकता है यात्री बसों का किराया; 18 को किराया बोर्ड की बैठक में हो सकता है फैसला

प्रदेश में संचालित प्राइवेट यात्री बसों का किराया 25 फीसदी तक बढ़ाया जा सकता है। नतीजन, यात्रियाें काे महंगा सफर करना पड़ेगा। बस ऑनर्स एसोसिएशन ने परिवहन विभाग काे किराया बढ़ाने काे लेकर अपने तर्कों सहित मांग पत्र सौंपा है। इसमें 50 फीसदी तक किराया बढ़ाने की मांग की गई है।

अगले एक-दो दिन में किराया बोर्ड की मीटिंग कर उन पर विचार किया जाएगा। वर्तमान में 730 में से अब तक 170 बसों का ही संचालन हो रहा है। उनमें भी यात्रियों की कमी चल रही है और बस ऑपरेटरों को भी घाटा हो रहा है। हरदा रूट पर गत दिवस अपनी बस का संचालन शुरू करने वाले ऑपरेटर मंगल सिंह चौहान ने बताया कि उन्होंने अपनी गाड़ी को 6600 रुपए का डीजल भरवाने के बाद हरदा भेजा था। जब गाड़ी लौटी तो उन्हें 4400 रुपए मिले।

प्राइम रूट बस ऑनर्स एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष चरनजीत सिंह गुलाटी ने बताया कि उन्होंने एसीएस परिवहन एसएन मिश्रा के समक्ष अपने मांग पत्र में पहले 5 किमी का न्यूनतम किराया 10 रुपए करने की मांग भी रखी है। जबकि मप्र बस ऑनर्स एसोसिएशन ने पहले 5 किमी सहित किराए में कुल 62% बढ़ोतरी की मांग की है। अधिकारिक सूत्रों के मुताबिक किराए में 25 फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है। 18 सितंबर को मंत्रालय में किराया बोर्ड की बैठक है।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top