Now Reading
मोती – माधव की तरह शिव – महाराज एक्सप्रेस 

मोती – माधव की तरह शिव – महाराज एक्सप्रेस 

 

उप चुनाव में होगी परीक्षा जोड़ी कितनी कारगर होगी
-राजनीतिक संवाददाता –
ग्वालियर । प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की जोड़ी इस समय अंचल के ताबड़तोड़ दौरे पर है । कारण साफ है उप चुनाव । इन उप चुनावो के परिणामो पर जहां एक तरफ शिवराज सरकार का भविष्य टिका है वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया को अपनी लोकप्रियता साबित करना है । यही बजह है कि अब दोनों जोड़ी की तरह घूम रहे है ।
पहले मोती – माधव एक्सप्रेस
सिंधिया परिवार पहले कांग्रेस में भी अपनी एक जोड़ी बना चुका है । अस्सी के दशक में माधवराव सिंधिया ने अर्जुन सिंह की जगह मोतीलाल वोरा को प्रदेश का सीएम बनवाने में सफलता हासिल की थी तब ये दोनों नेता साथ साथ दौरे करते थे तो अखबारों ने इसे मोती – माधव एक्सप्रेस का नाम दे दिया था । तब कहा जाता था कि वोरा जी सुबह का नाश्ता ग्वालियर में करते है और शाम का भोजन भोपाल में । अब फिर एक बार ऐसा देखने को मिल रहा है । पहले तीन दिन शिवराज सिंह लगातार गवालियर में रुके और अब तीन दिन का संयुक्त हवाई दौरा है जो अंचल की ज्यादातर विधानसभा सीट को कवर करेगा । हालांकि इस दौरे में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर भी लगातार शिरकत कर रहे है ।
दोनो नेता उप चुनाव में अपनी जान झोंक देना चाहते है ताकि परिणाम अनुकूल आएं । शिवराज की सरकार निर्वाध चल सके और सिंधिया का रुतबा बरकरार रह सकें । अगर उप चुनाव से पहले सिंधिया केंद्रीय मंत्रिमंडल में स्थान न पा सके तो उप चुनाव के परिणाम उनके मंत्री बनने के मामले को बहुत प्रभावित करेंगे।
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top