Now Reading
अवैध उत्खनन के खिलाफ डाॅ गोविंद सिंह निकालेंगे जनजागरण रैली

अवैध उत्खनन के खिलाफ डाॅ गोविंद सिंह निकालेंगे जनजागरण रैली

ग्वालियर। मध्यप्रदेश में लगातार नदियों में हो रहे रेत उत्खनन उससे गिरता जा रहा जल स्तर , न्यायालय से लेकर हर जगह लडाई के बाद भी सरकार द्वारा रेत के उत्खनन पर रोक नहीं लगा पाने के बाद अब पूर्व मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ग्वालियर, भिंड और मुरैना में गिरते जल स्तर को बचाने के लिये गांवों में जाकर जन जागरण अभियान चलायेंगे। उनका यह अभियान पांच सितंबर से शुरू होकर ११ सितंबर तक चलेगा। जनजागरण अभियान की शुरूआत वरिष्ठ कांग्रेस नेता पूर्व मंत्री अजय सिंह करेंगे।
उक्त जानकारी आज पत्रकारों को देते हुऐ पूर्व मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने कहा कि भारत सरकार ने नीति आयोग ने भी जल संकट को लेकर गहरी चिंता जताई है। उन्होंने २०२६ में कुछ जगहों पर भारी जल संकट की चेतावनी दी है। इस जल संकट में ग्वालियर, भिंड और मुरैना जिला शामिल है। उन्होंने बताया कि उन्होंने सरकारों से थक हारकर अब अपने लोगों के साथ मिलकर उक्त जल संकट से निबटने के लिये जहां मेग्सेसे पुरस्कार विजेता राजेन्द्र सिंह से मिलकर रूपरेख तय कर चुके हैं वहीं अब उन्हीं के अनुसार जन जागरण करने का फैसला किया है। इसी के तहत अब वह पांच सितंबर से जन जागरण अभियान चलायेंगे। इस जनजागरण में वह पांच सितंबर को भिंड के नाहर गांव में महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर पदयात्रा शुरू करेंगे। वहीं ११ सितंबर तक वह रोजाना लगभग १८ से २० किलोमीटर चलकर रास्ते में आने वाले गांवों में जनजागरण करते हुये ११ सितंबर को दतिया जिले के सेवढा स्थित सिंध नदी के तट पर प्रसिद्ध तीर्थ सनकुंआ पर अपनी यात्रा समाप्त करेंगे।
उन्होंने बताया कि पांच सितंबर को जनजागरण की शुरूआत वरिष्ठ कांग्रेस नेता अजय सिंह करेंगे। इसमें छह सितंबर को राज्य सभा सांसद विवेक तन्खा, सात सितंबर को कम्प्यूटर बाबा, आठ सितंबर को राजेन्द्र सिंह और मोहन प्रकाश, नौ सितंबर को सज्जन सिंह वर्मा एवं अन्य साथी, १० सितंबर को उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री बृजेन्द्र प्रताप जालौन, एवं ११ सितंबर को एकता परिषद के प्रमुख पी राजगोपाल उर्फ राजू भाई एवं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भी शामिल हो सकते हैं।
डॉ. गोविंद सिंह ने बताया कि पहले कुछ ही दूरी तक पाइप डालकर हेंडपंप में पानी आ जाता था । लेकिन अब उसका जल स्तर गिरने से गांवों में नदी किनारे भी परेशानी होने लगी है। इसका सबसे बडा कारण रेत का उत्खनन है। उन्होंने कहा कि इसी के चलते वह इस जनजागरण यात्रा को शुरू कर रहे हैं।
पत्रकार वार्ता में एपेक्स बैंक के पूर्व संचालक अशोक सिंह, वरिष्ठ कांग्रेस नेता वासुदेव शर्मा, जिला पंचायत भिंड के अध्यक्ष रामनारायण हिंडोलिया और विनोद कटारे आदि मौजूद थे।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top