Thursday, January 21, 2021
ताज़ातरीनराजनीतिराज्य

सिंधिया दिखाएंगे भाजपा नेताओं को अपनी ताकत

 

संभाग भर के सिंधिया समर्थक ग्वालियर में ही अलग – अलग जगह भाजपा की सदस्यता
ग्वालियर । लंबी प्रतीक्षा और कई बार टलते रहने के बाद आखिरकार कांग्रेस की सरकार गिराकर भाजपा नेता बने राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया का ग्वालियर दौरा बन ही गया । वे फरवरी में आखिरी बार ग्वालियर आये थे तब उन्होंने भाजपा पर कांग्रेस विधायकों को खरीदने की कोशिश करने और कमलनाथ सरकार को अस्थिर करने के आरोप लगाए थे । उसके बाद अब वे पहली बार ग्वालियर की राजनीतिक यात्रा पर आ रहे है । मकसद अपने समर्थकों को भाजपा की सदस्यता दिलाना और भाजपा को अपनी जमीनी ताकत दिखाना है।
तीन दिन का दौरा
श्री सिंधिया 22 अगस्त से तीन दिन ग्वालियर में रहेंगे । भाजपा प्रवक्ता के अनुसार इस दौरान केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर,मुख्यमंत्री शिवराज सिंह,भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बी डी शर्मा भी मौजूद रहेंगे । हालांकि अभी यह साफ नही है कि सिंधिया के अलावा बाकी नेता तीनो दिन ग्वालियर रुकेंगे या फिर पहले दिन आकर लौट जाएंगे।
सिंधिया समर्थक खुश 
लंबे समय से सिंधिया समर्थको का दौरा टलते आने के कारण संभाग भर में उनके समर्थकों में मायूसी थी क्योंकि भाजपा उन्हें अपनी बैठकों और कार्यक्रमो में बुलाती नही थी क्योंकि उन्होंने भाजपा की सदस्यता नही ली थी । अब वे औपचारिक तौर पर भाजपा में।शामिल हो जाएंगे। उन्हें उम्मीद है कि भाजपा में उन्हें वैसा ही मान – सम्मान मिलने लगेगा जैसा कांग्रेस में मिलता था ।
कांग्रेस को भी मिलेगी राहत
हालांकि इस आयोजन से भाजपा का चुनावी अभियान औपचारिक रूप से शुरू हो जाएगा और कार्यकर्ताओं में भी उत्साह का संचार होगा लेकिन अगर कांग्रेस सूत्रों की बात करें तो वे भी इसी आयोजन का इंतज़ार कर रहे थे । उनके अनुसार हालांकि पार्टी सिंधिया समर्थको को पहले ही बाहर का रास्ता दिखा चुकी है लेकिन अभी अनेक लोग दोनो जगह चक्कर लगाते रहे है क्योंकि उन्हें अपना भविष्य सुरक्षित नही लग रहा । अब उनकी स्थिति साफ हो जाएगी ।
हर जिले से भीड़ लाने की तैयारी
इस शक्ति प्रदर्शन को लेकर श्री सिंधिया कोई कोर कसर नही छोड़ना चाहते । उनके दिल्ली और ग्वालियर के दफ्तर हर जिले के अपने झंडेवरदारों से सतत संपर्क में हैं और ज्यादा से ज्यादा लोगों को ग्वालियर लाने की रणनीति बना रहे है । इनके लिए वाहन उपलब्ध कराने का जिम्मा सिंधिया समर्थक परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत के पास ही रहेगा जो परोक्ष रूप से व्यवस्था संभालेंगे। महल से लगातार पूरी तैयारियों की मॉनिटरिंग हो रही है कि कौन कितने लोग लेकर पहुंचेगा।
कोरोना से बचाव के मद्देनजर हुई तैयारी
चूंकि ग्वालियर- चम्बल संभाग के कोरोना संक्रमण पूरे उछाल पर है लिहाजा अब इस कार्यक्रम को नया रूप दिया गया है । पहले तय हुआ था कि एक भव्य और बड़ा कार्यक्रम किया जाए जिसमे दस से  बीस हजार लोग एक साथ आकर सदस्यता ग्रहण करें लेकिन कोरोना संक्रमण से लोगो को बचाने के मद्देनजर अब इसे विधानसभा और जिलावार करने की योजना बनाई गई ताकि भीड़ खण्ड में बंट जाए ।

Leave a Reply