Now Reading
दो बच्चों को जन्म फिर इन्हें छोड़ हॉस्पिटल से भागी महिला

दो बच्चों को जन्म फिर इन्हें छोड़ हॉस्पिटल से भागी महिला

*बच्चे एसएनसीयू भर्ती बने रहे। भागी महिला,गेट पर पकड़ी गई। एक घंटे होता रहा हंगामा। किया पति के हवाले।

भिंड। बुधवार की दोपहर एक मां ने अपने दो बच्चो को जन्म देकर जिला चिकित्सालय में छोड़ भागने का प्रयास किया। गेट से बाहर निकलती उससे पहले ही लोगों ने गेट पर पकड़ किया परिजनों के हवाले । महिला लहार क्षेत्र गावँ शिकारपुरा की निवासी बताई जा रही है। एक वर्ष पूर्व पति पश्चिम बंगाल से ब्याह कर लाया था। दोनों बच्चे अभी एसएनसीयू में भर्ती है।
लहार थाना अंतर्गत ग्राम शिकारपुरा निवासी मंजू पत्नी  नारायण प्रजापति 35 वर्ष को सोमबार सुबह जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था। 11:00 बजे मंजू ने दो बच्चो को जन्म दिया। जिसमे एक बेटा एक बेटी है ! पति नारायण प्रजापति ने बताया बच्चे कम बजन के पैदा  होने के कारण से उनको गहन चिकित्सा इकाई में भर्ती कराया गया। बच्चे भर्ती होने के बाद से 24 घंटे होने को है इस ने बच्चो को दूध नहीं पिलाया। इसको दूध पिलाने को कई बार कहा। हर बार बोल रही है नही पिलाऊंगी। इसी दौरान मौका पाकर। मंजू अपने बच्चों को छोड़कर भाग निकली। मैं हॉस्पिटल के अंदर इधर उधर ढूंढता रहा।  तभी गेट के बाहर से पकड़कर मुझे लोगों ने सौंपा है। मंजू अभी भी अपने बच्चों को दूध पिलाने को तैयार नहीं है। ना अंदर दोबारा हॉस्पिटल में जाना चाहती है। इस बात पर तकरीबन एक घंटे हॉस्पिटल के प्रांगण हंगामा होता रहा। लोगो की समझाइश के बाद उस महिला को वापस हॉस्पिटल में ले जाया गया। जहां उसकी स्थिति सामान बनी हुई है। परिजनों ने बताया यह मानसिक रूप से भी विक्षिप्त नहीं है फिर भी भाग रही है। पति से पूछने पर बताया। कि एक साल पूर्व मैं इसको पश्चिम बंगाल से ब्याह कर लाया हूं। इसके साथ 10 साल की बेटी भी आई है। अभी तक तो यह आराम से ग्रहगांव शिकारपुरा में रहती थी। लेकिन डिलीवरी के बाद से यह बच्चों को छोड़कर भागने की फिराक में है। महिला बच्चों को छोड़कर क्यों भागना चाहती है? इस सवाल के जवाब में पति चुप रह जाते है। बरहाल जच्चा और बच्चे दो हॉस्पिटल में भर्ती है।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top