Tuesday, January 19, 2021
ताज़ातरीनदेश

नक्सली की डायरी से मिला सुराग, पुलिस को मिला हथियारों का जखीरा

राजनांदगांव। गत 1 जुलाई को छूरिया के जोक और कटेगा के समीप जंगल में हुई मुठभेड़ में पुलिस को बड़ी सफलता मिली थी। एक नक्सली को पुलिस ने दूसरे दिन सुबह झोपड़ी से घायल अवस्था में पकड़ा था। जिसका नाम डेविड बताया गया था। इसके बाद उससे बरामद डायरी में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। डेविड की डायरी की बदौलत नक्सलियों द्वारा जंगल में जमीन में गाढ़े गए हथियारों का जखीरा पकड़ने में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है।

जानकारी के अनुसार डेविड छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के दर्रेकसा एरिया में सक्रिय होकर काम कर रहा था। डेविड के पास से एक एके 47, पिस्टल, मैगजीन सहित कई अन्य सामान भी बरामद हुए थे। डेविड के पास से एक डायरी भी बरामद की गई है। जिसमें कुछ महत्वपूर्ण सुराग पुलिस के हाथ लगे हैं । डेविड के निशानदेही पर पुलिस ने सामानों का जखीरा बरामद किया है। एसपी जितेन्द्र शुक्ला के मार्गदर्शन में चलाए जा रहे नक्सल विरोधी अभियान को उस समय एक और सफलता मिली चौकी जोब अन्तर्गत ग्राम कटेंगा एवं खोभा के बीच हुए पुलिस नक्सली मुठभेड़ में घायल डीव्हीसी एवं प्लाटून नम्बर- 1 के कमांडर डेविड उर्फ उमेश उर्फ अगनान उईके उम्र 34 वर्ष निवासी सावली थाना कोरची जिला गढ़चिरौली से पूछताछ की गई।

डेविड उर्फ उमेश ने बताया कि ग्राम घोबेदल्ली- मांगीखोली- छुईपानी के बीच जंगल पहाड़ी में 4 अलग-अलग जंगल एम्युनेशन, डेटोनेटर, वायरलेस सेट एवं नक्सली साहित्य को स्टील के डिब्बेे में जमीन में गढ़ा कर रखा है।सूचना पर थाना गातापार से उप निरीक्षक जितेन्द्र डहरिया के नेतृत्व में जिला बल, छसबल एवं बीडीएस टीम की सयुक्त पार्टी ग्राम घोबेदल्ली- मांगीखोली- छुईपानी के बीच जंगल पहाड़ी को सर्च करने रवाना किया गया।

Leave a Reply