Friday, January 22, 2021
ताज़ातरीनराज्य

एक पास पर एक ही एंट्री; केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर तक को अकेले गाड़ी में जाना पड़ा राजभवन

भोपाल. शिवराज मंत्रिमंडल के विस्तार के बीच गुरुवार को राजभवन में भारी गहमागहमी रही। लेकिन, इस बार कार्यकर्ताओं और कई बड़े नेताओं तक को शपथ ग्रहण समारोह से दूर रखा गया। पास के बावजूद हर एक विधायक और संभावित मंत्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग से होकर गुजरना पड़ा। स्क्रीनिंग में पास होने के बाद ही अंदर जाने दिया गया। कई विधायकों को पास होने के बावजूद गेट पर रोका गया। जब तक उनकी चेकिंग नहीं हुई तब तक एंट्री नहीं मिली। इस बीच, ज्योतिरादित्य सिंधिया भी राजभवन पहुंचे।

कोरोना की वजह से पूरी व्यवस्था में बदलाव किया गया है। इस बार मीडिया को राजभवन गेट के ठीक सामने मिंटो हॉल की तरफ जगह दी गई है। वहां से ही रिपोर्टिंग गेट पर लगातार पुलिस अनाउंस कर रही थी। जिनके पास राजभवन में जाने के पास थे, उन्हें ही अंदर जाने दिया गया। इसके अलावा कोई भी अंदर नहीं गया। एक पास पर केवल एक ही व्यक्ति को अंदर जाने की अनुमति दी गई। यहां कैलाश विजयवर्गीय, विनय सहस्त्रबुद्धे को नियमों का पालन करके राजभवन में एंट्री मिली।

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को भी कोरोना के चलते गाड़ी में सिर्फ अकेले अंदर जाने की अनुमति दी गई। उनके साथ चार लोग थे। उन्हें गेट पर ही उतार दिया गया है। राजभवन में निर्धारित समय 11:00 बजे से शपथ ग्रहण होना था, लेकिन चेकिंग और थर्मल स्क्रीनिंग की वजह से इसमें काफी देरी हुई। अंत में मुख्यमंत्री का काफिला अंदर पहुंचा।उनकाे गेट नंबर 1 से एंट्री मिली। जबकि गेट नंबर 2 से बाकी लोगों को एंट्री दी गई है। बाद में नरोत्तम मिश्रा राजभवन पहुंचे।

Leave a Reply