Sunday, October 25, 2020
ताज़ातरीनराज्य

श्रद्धांजलि उपवास रख वीरांगना को किया याद

????????????????????????????????????

 

रानी लक्ष्मी बाई की समाधि पर सुबह से लगा श्रद्धांजलि देने वालों का तांता
ग्वालियर।
कोरोना महामारी के कारण इस बार वीरांगना लक्ष्मीबाई मेले का स्वरूप बदला हुआ दिखा। जहां पहले सैकड़ों की संख्या में लोग झांसी से आई ज्योतियात्रा में शामिल होते थे। वहीं इस बार चुनिंदा लोगों ने शहीद ज्योतियात्रा निकाली। इस दौरान सभी ने झांसी की रानी की समाधि पर दीपदान किया। वहीं चीन के सैनिकों के साथ हिसंक झड़प में शहीद हुए सैनिकों के सम्मान में दीप जलाए गए। गुरुवार सुबह 8 बजे समाधि स्थल पर पुष्पांजलि अर्पित करने यहां लोगों का तांता लगा हुआ है। सबसे पहले प्रशासनिक अधिकारियों ने रानी लक्ष्मीबाई की समाधि स्थल पहुंचकर उन्हें शासन की ओर से श्रद्धांजलि अर्पित की उसके बाद पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया सांसद विवेक नारायण शेजवलकर भाजपा जिला अध्यक्ष कमल मखीजानी सहित अन्य तमाम नेताओं ने समाधि स्थल पहुंचकर वीरांगना को नमन किया।
वीरागंना को श्रद्धासुमन अर्पित करने श्रद्घांजलि उपवास
 बलिदान मेले के संस्थापक अध्यक्ष एवं पूर्वमंत्री जयभानसिंह पवैया 20 नागरिकों के साथ सुबह 8 से 12 बजे तक वीरागंना को श्रद्धासुमन अर्पित करने श्रद्घांजलि उपवास पर बैठे। साथ ही चीन सीमा पर शहीद हुए भारतीय जवानों को श्रद्घाजंलि अर्पित की । साथ ही शाम को 7.55 बजे सांस्कृतिक झांकियों के साथ प्रसिद्घ कवि विनीत चौहान फेसबुक पर लाइव काव्यपाठ करेंगे। इसके साथ 20 सालों से आयोजित होने वाले ऐतिहासिक समारोह पर आधारित डॉक्युमेंट्री का प्रदर्शन भी होगा।

Leave a Reply