Friday, October 30, 2020
ताज़ातरीनराज्य

भोपाल में खुले धार्मिक स्थल, सीएम पहुंचे करुणाधाम आश्रम

भोपाल । भोपाल में आज कोरोना वायरस लॉकडाउन के 84 दिन बाद धार्मिक स्थल खुले। इस दौरान नियमों का पालन कर लोगों को प्रवेश दिया गया। सीएम शिवराज सिंह चौहान भी सोमवार सुबह भोपाल के करुणाधाम आश्रम पहुंचे और भगवान के दर्शन किए। सभी धर्मों के धर्म स्थल खुले तो पूजा-अर्चना, आरती व देव दर्शन से लेकर श्रद्धालुओं के प्रवेश का तरीका सबकुछ बदला-बदला रहा। देव दर्शन गोल घेरे में खड़े होकर ही हो पाए। मंदिरों में भक्तों को घंटी बचाने और फूलमाला-चुनरी, प्रसादी चढ़ाने की अनुमति नहीं है। वहीं मस्जिदों में नमाज तो हुई, लेकिन सभी के बीच फासदा रखा गया। चादर चढ़ाने की भी अनुमति नहीं है। नमाज पढ़ने के लिए लोग घर से ही वुजू करके आए। यही सुरक्षित दूरी की तस्वीर गुरुद्वारों व चर्चों में दिखाई दी।

मंदिर में भगवान से प्रार्थना करें, दिखावे की चीजों से बचें। आस्था का सम्मान रखें। सावधानी हटी तो वायरस का खतरा भी बढ़ जाएगा। इसलिए सावधान रहें। मंदिर में प्रवेश के दौरान सभी आपस में दूरी और शांति बनाए रखें। व्यवस्था में सभी सहयोग करें। – महंत चंद्रमादास त्यागी महाराज, गुफा मंदिर

मस्जिद जाएं तो यह करें, यह न करें

नियम

– वुजु घर से ही करके आएं। पादुका अपने वाहन में रखें।

– सुरक्षित दूरी बनाते हुए फर्श पर बैठकर ही नमाज करें।

– चादर नहीं चढ़ाएं। अगरबत्ती, धूपवत्ती भी न ले जाएं।

– भीड़ से स्वयं बचें, यह आपको सुरक्षित रखेगी।

– मस्जिद परिसर में किसी से हाथ नहीं मिलाएं।

फर्श पर बैठकर अदा करें नमाज

मस्जिद में उचित शारीरिक दूरी बनाकर ही प्रवेश व फर्श पर बैठकर नमाज अदा करें। इमाम, मोज्जिन मस्जिद में सुरक्षा इंतजामों को लेकर सतर्क रहें। किसी को ज्यादा समय तक रुकने न दें। गाइडलाइन के पालन करने पर ही मस्जिद में निकाह किए जाएं। – सैयद मुश्ताक अली नदवी, शहर काजी

गुरुद्वारे जाएं तो यह करें, यह न करें

नियम

– सैनिटाइजर गेट से ही प्रवेश करें।

– गुरुद्वारा में हाथ-पांव अच्छे से धोकर ही प्रवेश करें।

– सभी संगत की गतिविधियां कैमरे में कैद होंगी।

– फूल-माला अर्पित करना वर्जित है।

– अधिक समय तक गुरुद्वारा में रुकें नहीं।

उचित दूरी का पालन करें

गुरुद्वारे में सुरक्षा के विशेष प्रबंध किए गए हैं। सुरक्षा में चूक नहीं हो, इसके लिए सुरक्षा गार्ड सेवक के तौर पर तैनात किए हैं। हमीदिया रोड गुरुद्वारा में सैनिटाइजर गेट बनाया है, उसी से प्रवेश मिलेगा। उचित शारीरिक दूरी का ध्यान रखें। – सरदार परमवीर सिंह, अध्यक्ष, गुरुद्वारा प्रबंध कमेटी

चर्च जाएं तो यह करें, यह न करें

नियम

– एक बेंच पर दो लोग ही बैठें।

– प्रवेश के पूर्व साबुन से हाथ धोंए।

– किसी चीज को स्पर्श न करें। दूर से अभिवादन करें।

– बुजुर्ग व रोगी चर्च न जाएं।

– बच्चों, बुजुर्गों को साथ न लाएं।

बुजुर्ग व रोगी चर्च न जाएं

चर्च में होने वाली प्रार्थना सभा का समय बढ़ाया जाएगा, ताकि लोग बारी-बारी से चर्च में जा सकें। पहली पवित्र मिस्सा और प्रार्थना में परमेश्वर से मानवता के लिए ईश्वरीय अनुग्रह मांगा जाएगा। – डॉ. लियो कॉर्नेलियो, प्रांत महाधर्माध्यक्ष, कैथोलिक इसाई समुदाय

उल्लंघन पर हो सकती है कार्रवाई

मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा, चर्च, जिनालय व बुद्ध विहारों में प्रवेश के समय प्रशासन की गाइडलाइन का ख्याल रखें। उल्लंघन करने पर प्रशासन कार्रवाई भी कर सकता है। प्रशासन ने सभी धर्मस्थलों के व्यवस्थापकों को अलर्ट किया है। उनकी नजर आपकी हर गतिविधि पर रहेगी।

Leave a Reply