Thursday, October 29, 2020
ताज़ातरीनराज्य

सराफा थाने में गिरफ्तारी देने पहुंचे कांग्रेस विधायक और अध्यक्ष

इंदौर। कांग्रेस विधायक और इंदौर शहर कांग्रेस अध्यक्ष अपने खिलाफ दर्ज हुए केस के बाद रविवार सुबह गिरफ्तारी देने पहुंचे। इस दौरान सराफा थाना पुलिस ने विधायक संजय शुक्ला, विशाल पटेल और विनय बाकलीवाल को गिरफ्तार करने के बजाए कोर्ट का नोटिस दे दिया। अब 29 तारीख को उन्हें कोर्ट में पेश होना होगा। पूर्व मंत्री जीतू पटवारी भी सराफा थाने में गिरफ्तारी देने पहुंचेंगे। गौरतलब है कि शनिवार को बिना अनुमति राजवाड़ा पर धरना देने के मामले में सराफा थाना पुलिस ने कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी, विशाल पटेल, संजय शुक्ला और शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था। पुलिस के अनुसार राजवाड़ा क्षेत्र कोरोना के अतिसंवेदनशील क्षेत्र में आता है। यहां प्रदर्शन, धरना, रैली पर प्रतिबंध है। इसके बावजूद धरना प्रदर्शन किया गया।

शुक्रवार को पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता ने केंद्रीय मंत्री नरेंद्रसिंह तोमर का जन्मदिन मनाने के लिए कमला नेहरू नगर में राशन वितरण कार्यक्रम रखा था। आयोजन में भारी भीड़ उमड़ी। न शारीरिक दूरी का ध्यान रखा गया और न ही अन्य सावधानी रखी गई। इसी के विरोध में कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी, संजय शुक्ला और विशाल पटेल शहर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल के साथ शनिवार सुबह 11 बजे राजवाड़ा पर अहिल्या प्रतिमा के सामने धरने पर बैठे। इनकी मांग थी कि गुप्ता पर धारा 279, 270 और 271 में मामला दर्ज किया जाए।

धरने से नेताओं को उठाने के लिए एसडीएम राकेश शर्मा पहुंचे और नेताओं से धरना खत्म करने को कहा, लेकिन नेताओं ने इन्कार कर दिया। जमीन पर बैठे कांग्रेस नेताओं से बात करने के लिए एसडीएम उनके सामने जमीन पर घुटनों के बल खड़े हो गए। बात करते हुए एसडीएम ने हाथ जोड़कर धरना खत्म करने की बात भी कही, लेकिन कांग्रेस नेता नहीं माने। दो घंटे तक धरने पर बैठने की घोषणा के अनुसार दोपहर 1 बजे ही नेताओं ने धरना खत्म किया। इस मामले एसडीएम और सीएसपी को हटा दिया गया।

Leave a Reply