Sunday, October 25, 2020
ताज़ातरीनराजनीतिराज्य

चौधरी राकेश सिंह का दिग्विजय पर करारा हमला । बोले – वे कांग्रेस में क्या है ?

एक तरफ कांग्रेस उपचुनाव से पहले बीजेपी में सेंधमारी कर रही है, तो वही मध्य प्रदेश कांग्रेस पार्टी में बड़ी फूट पैदा हो गयी है। पूर्व मंत्री चौधरी राकेश सिंह ने  ग्वालियर में  मीडिया से बात करते हुए बड़ा बयान दिया है। चौधरी राकेश सिंह ने कहा है कि मैं कांग्रेस पार्टी में नही आ जाऊं, इसलिए तीन बड़े नेता मेरे लिए इकट्ठा हो रहे है… जिनमें दिग्विजय सिंह, अजय सिंह और  डॉ गोविंद सिंह शामिल है। इन लोगों को चौधरी राकेश सिंह के नाम से इतना भय सता रहा है कि वह रात दिन मेरे नाम की चर्चा कर रहे है। जबाकि में कांग्रेस ज्वाइन कर चुका हूं, राहुल गांधी जी ने क्षेत्र में काम करने के लिए भी बोल दिया है… लेकिन सवाल ये है कि अब जो दिग्विजय सिंह मेरे खिलाफ बोल रहे हैं, वह किस अधिकार से बोल रहे हैं, यह क्या पार्टी के अनुशासनहीनता नहीं है…. क्योंकि मैं कांग्रेस मैन हूं, कांग्रेस की विचारधारा से जुड़ा हुआ हूं, 1979 से श्यामाचरण शुक्ला के साथ काम कर रहा हूं, हां एक बार गलती हुई है, उसके लिए माफी मांगता हूं। इसके साथ ही चौधरी राकेश सिंह ने अजय सिंह पर भी निशाना साधा है…. चौधरी राकेश सिंह ने कहा है कि अजय सिंह मेरा विरोध कर रहे हैं… ये वहीं अजय सिंह है जो अर्जुन सिंह की राजनीतिक विरासत को संभाल नही सकें, अजय सिंह तीन बार चुनाव हार गए और वह मेरा विरोध कर रहै है….. ।

उंन्होने  दिग्विजिय सिंह पर भी आरोप लगाया । साथ ही मेहगांव विधानसभा सीट से कांग्रेस से अपनी दावेदारी पेश कर रहे है।
चौधरी राकेश सिंह ने कहाकि  उनका फैसला की तीन लोग नही कांग्रेस करेगी जिसके नेता सोनिया जी,राहुल जी और कमलनाथ जी करेंगे । राहुल गांधी जी जब भिण्ड आये थे तो मैं मंच पर उनके साथ था । उंन्होने कहा था पार्टी में काम करिए ।  कुछ समय पहले मुझे कमलनाथ जी ने बुलाया और पूछा कि क्या तुम चुनाव लड़ने के इक्छुक हो मैने कहाकि पार्टी कहेगी तो लड़ूंगा अन्यथा जो काम देगी वह करूंगा ।

उंन्होने यह भी कहाकि में इस मामले को मीडिया में नही लाना चाहता था लेकिन जब दिग्विजय सिंह ने इस पर प्रेस कांफ्रेस की तो मुझे मजबूरी में पार्टी फोरम से बाहर आकर मीडिया के सामने अपनी बात कहनी पड़ी । उंन्होने यह भी कहाकि डॉ गोविंद सिंह मेरा विरोध क्यों कर रहे है इस पर थोड़ा अचरज है । सीनियर होने के बावजूद में उनके लहार स्थित घर गया । सौजन्य बातचीत में उंन्होने विरोध बजी प्रकट नही किया ।

Leave a Reply