Wednesday, October 21, 2020
ताज़ातरीनराजनीतिराज्य

घर – घर जाकर कार्यकर्ताओं की नब्ज जांच रहे है बिसेन और मलैया

भले ही मध्यप्रदेश में होने वाले 24 उपचुनाव के लिए तारीखों का ऐलान नहीं हुआ हो लेकिन बीजेपी ने विधानसभा स्तर पर तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसी के लिए बीजेपी ने विधानसभा प्रभारी भी नियुक्त कर दिए हैं और यह विधानसभा प्रभारी अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र में पहुंचकर माइक्रोमैनेजमेंट में भी जुट गए हैं। इसी कड़ी में ग्वालियर विधानसभा सीट के प्रभारी पूर्व मंत्री जयंत मलैया आज ग्वालियर पहुंचे और ग्वालियर के प्रमुख कार्यकर्ताओं के घर जाकर मुलाकात की, इसके साथ ही उन्होंने पार्टी दफ्तर में भी कार्यकर्ताओं के साथ मुलाकात की, वही ग्वालियर विधानसभा से 2018 के चुनाव में प्रत्याशी रहे जयभान सिंह पवैया से भी मुलाकात की। मीडिया से बात करते हुए जयंत मलैया ने कहा कि मध्य प्रदेश में सत्ता उसी की होगी जिसकी अभी सत्ता है,वह दो-तीन दिन यहां रुकेंगे ज्यादा से ज्यादा कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर करेंगे,कुछ नेताओं के पार्टी छोड़े जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि गिने-चुने लोग ही है जो पार्टी छोड़कर जा रहे हैं, भारतीय जनता पार्टी को किसी कार्यकर्ता की बगावत से कोई फर्क नहीं पड़ता है,वही उपचुनाव में पुराने कार्यकर्ताओं के टिकिट न दिए जाने पर बगावत की आशंका पर कहा कि पार्टी के सभी कार्यकर्ता चुनाव नही लड़ते कुछ लोग ही होते हैं जो चुनाव लड़ना चाहते हैं, वैसे तो बगावत की कोई उम्मीद नहीं है लेकिन यदि कुछ ऐसा होगा तो पार्टी नाराज कार्यकर्ताओं के साथ बैठकर उन्हें मना लेगी।पार्टी में कहीं कोई डैमेज का नहीं है यह तो कांग्रेस की सोच है। उन्हें पूरी उम्मीद है कि जब पार्टी अपना प्रत्याशी घोषित कर देगी तो सभी लोग एकजुटता के साथ उप चुनाव लड़ेंगे।

गौरतलब है कि भाजपा द्वारा ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र के उप चुनाव प्रभारी बनाये गए पूर्व मंत्री गौरी शंकर बिसेन कल से ही बैठके ले रहे हैं ।

Leave a Reply