Now Reading
उपचुनाव वाली 24 सीटों पर मैदानी स्थिति का सर्वे करवा रही बसपा

उपचुनाव वाली 24 सीटों पर मैदानी स्थिति का सर्वे करवा रही बसपा

भोपाल । मध्यप्रदेश में 24 सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर बसपा ने मैदानी स्थिति का सर्वेक्षण शुरू करवाया है। इसके पहले प्रदेश इकाई फीडबैक के आधार पर हर सीट का जातीय और सियासी गणित का ब्योरा बसपा सुप्रीमो को भेज चुकी है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने सभी 24 सीटों पर बारीकी से सर्वे कराने को कहा है।

बसपा का खास फोकस ग्वालियर-चंबल अंचल की 16 सीटों पर है। इनमें से कई सीटों पर बसपा पहले काबिज रह चुकी है, इसलिए बसपा हाईकमान ने पूरी ताकत से चुनाव लड़ने के निर्देश दिए हैं। कोरोना संकट और लॉकडाउन के कारण बसपा के प्रदेश प्रभारी रामजी गौतम और अतरसिंह राव के दौरे शुरू नहीं हो पाए हैं, लेकिन एप के सहारे पर दोनों प्रभारी और प्रदेश अध्यक्ष रमाकांत पिप्पल इन क्षेत्रों के पार्टी पदाधिकारियों के साथ लगातार चर्चा कर निगरानी बनाए हुए हैं। दरअसल इन क्षेत्रों में भाजपा और कांग्रेस की तैयारियों को देख बसपा भी सतर्क हो गई है। प्रदेश अध्यक्ष पिप्पल का कहना है कि अंचल की 16 में से 11 सीटों पर पूर्व में बसपा काबिज रह चुकी है।

विधानसभा चुनाव 2018 के दौरान कई विधानसभा क्षेत्रों में बसपा प्रत्याशियों को निर्णायक वोट मिले भी मिले थे, इसलिए इन सीटों से विशेष उम्मीदें हैं। पार्टी ने अब संभावित और जिताऊ उम्मीदवारों को लेकर नए सिरे से रणनीति पर काम शुरू कर दिया है। सर्वे और तैयारियों आदि की रिपोर्ट से हाईकमान को अवगत कराया जाएगा।नवंबर 2018 के विधानसभा आम चुनाव में 24 में से 23 सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशियों ने जीत दर्ज कराई थी। उल्लेखनीय है कि प्रदेश की आगर, अनूपपुर, बदनावर, सुवासरा, हाटपीपल्या, सांवेर, सांची, सुरखी, ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व, डबरा, सुमावली, अंबाह, मेहगांव, गोहद, मुरैना, दिमनी, भांडेर, करैरा, बमौरी, जौरा, पोहरी, अशोकनगर एवं मुंगावली सीटों पर उपचुनाव होना है।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top