Thursday, October 29, 2020
ताज़ातरीनराज्य

NDA 2.0 के एक साल पूरा होने पर बोले CM शिवराज सिंह चौहान- मोदी नाम में छुपा है मंत्र

भोपाल. बतौर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के दूसरे कार्यकाल का पहला वर्ष पूरा हो गया है. NDA 2.0 के दूसरे कार्यकाल का पहला साल पूरा होने पर बीजेपी के नेता अलग-अलग अंदाज में सरकार के कामकाज की बात कर रहे हैं. इस अवसर पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने कहा है कि मोदी केवल एक नाम नहीं है, बल्कि मोदी (MODI) नाम में एक मंत्र छुपा है.

मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री ने पीएम मोदी के नाम की कुछ इस तरह से व्‍याख्‍या की है-

पहला अक्षर- M- मोटिवेशनल, मेहनती

दूसरा अक्षर- O- ओजस्वी, अपार्च्यूनिटी, कोरोना की चुनौती को अवसर में बदल दिया

तीसरा अक्षर- D- दूरदर्शिता, डायनामिक लीडरशिप

चौथा अक्षर- I- इंस्पायर, इच्छाशक्ति, इंडिया.

सीएम शिवराज ने कहा कि पीएम मोदी आत्मनिर्भर भारत के लिए हमें इंस्पायर करते हैं. उनका नाम सिर्फ नाम नहीं है, बल्कि उनका नाम एक मंत्र के रूप में हमें उर्जा से भरता है. ऐसे नेता को हम दूसरे कार्यकाल का एक साल पूरा करने पर बधाई देते हैं.शिवराज ने आगे कहा, ‘पिछले एक साल में मोदी सरकार ने अनुच्छेद 370 की समाप्ति, सीएए, राम मंदिर का निर्माण, तीन तलाक कानून, भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए 20 लाख करोड़ का पैकेज जैसे कई कार्य किए हैं. धन्य हैं हम, जो हमें ऐसा नेता मिला है.’

मोदी ने पेश किया अपनी सरकार का रिपोर्ट कार्ड
इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश के नाम चिट्ठी लिखी. इसमें उन्होंने अपनी सरकार के दूसरे कार्यकाल का एक साल पूरा होने पर अपनी सरकार का रिपोर्ट कार्ड पेश किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अनुच्छेद 370 को निरस्त करने, राम मंदिर मुद्दे को सुलझाने, ट्रिपल तालक को अपराध घोषित करने और नागरिकता अधिनियम में संशोधन को अपने दूसरे कार्यकाल के दौरान प्रमुख उपलब्धियों के तौर पर पेश किया. भारत को वैश्विक नेता बनाने के सपने को पूरा करने के उद्देश्य से पिछले एक साल में उनकी सरकार ने ये फैसले लिए.

अनुच्छेद 370 के खत्म होने से बढ़ी राष्ट्रीय एकीकरण की भावना
प्रधानमंत्री के रूप में अपने दूसरे कार्यकाल की पहली वर्षगांठ पर देश के लोगों को एक खुले पत्र में पीएम मोदी ने कहा कि 2019 में भारत के लोगों ने न केवल हमारी सरकार को वोट किया, बल्कि भारत को नई ऊंचाइयों पर ले जाने और इसे एक विश्व गुरु बनाने का सपना देखा. पिछले एक साल में लिए गए निर्णयों को इस सपने को पूरा करने में आगे बढ़े. पिछले एक साल में कुछ फैसलों पर व्यापक रूप से चर्चा हुई और सार्वजनिक चर्चा में बने रहे. पिछले साल अगस्त में संविधान के अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू और कश्मीर की विशेष स्थिति को समाप्त करने के केंद्र के फैसले के बारे में कहा कि संविधान की अनुच्छेद 370 के खत्म होने से राष्ट्रीय एकता और एकीकरण की भावना आगे बढ़ी.

Leave a Reply