Now Reading
दो माह के लॉक डाउन के बाद शुरू हुए क्रेशर में लगी भीषण आग , करोड़ों का नुक्सान 

दो माह के लॉक डाउन के बाद शुरू हुए क्रेशर में लगी भीषण आग , करोड़ों का नुक्सान 

ग्वालियर। जिले के सबसे बड़े पत्थर खदान एरिया बिलौआ में आज सबरे एक क्रेशर में भीषण आग लग गई।  हालाँकि इस अग्निकांड में कोई जन हानि तो नहीं हुई लेकिन काम से काम डेढ़ करोड़ रुपये की क्षति अवश्य हुई है। 
घटना सोमवार को सुबह की है। यहाँ स्थित बालाजी स्टोन क्रेशर परिसर में अचानक आग की चिंगारियां निकलने लगी और देखते ही देखते पहले वहां धुएं का गुबार उठा और फिर फिर आग की लपटों ने पूरे इलाके को अपनी चपेट में ले लिया। 
बेल्ट में आग लगने से हुआ हादसा 
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार यह बड़ा हादसा क्रेशर के मैन बेल्ट में आग लगने से घटित हुआ। बताते हैं बेल्ट में आग लग गयी लेकिन किसी को पता नहीं चलने से क्रेशर भी चालू  जिससे आग ने तत्काल अपना बिकराल रूप दिखाना शुरू कर दिया और लू चलने के कारण और भी तेज़ी से आग भड़की। हालाँकि आसपास के क्रेशर पर काम करने वाले लोग तत्काल मौके पर पहुँच गए और अंदर काम करने वाले कर्मचारियों को सकुशल वापिस निकाल लिया गया जिससे कोई जनहानि नहीं हुई लेकिन क्रेशर को बहुत नुक्सान हुआ।
more read –
क्रेशर एसोसिएशन बिलौआ के अध्यक्ष डिम्पी कंसाना का कहना है कि घटना बहुत ही दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण है। इसमें मौते तौर पर डेढ़ से दो करोड़ रूपये तक का नुक्सान हुआ होगा। उन्होंने कहाकि वैसे भी कोरोना संक्रमण को रोकने के प्रयासों के चलते लागू हुए देश व्यापी लॉक डाउन के कारण लगभग दो महीने से क्रेशर इंडस्ट्रीज ठप्प पड़ी थी।  पिछले सप्ताह ही इनको खोलने की इज़ाज़त मिली थी और अभी तो क्रेशर चलाने की शुरुआत ही हो रही है कि यह दुखद घटना हो गई। 
View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top