बुरहानपुर में फिर कोरोना मरीजों का विस्फोट हुआ। 14 मई को 14 कोरोना पॉजिटिव मरीज की रिपोर्ट आई है। जिसके बाद जिले में अब 110 मरीज हो गए हैं। इसमें 9 की मौत हो चुकी है। इन मरीजों के बाद शहर में करीब 80 फीसदी क्षेत्र कंटेंटमेंट एरिया हो जाएगा। जिला स्वास्थ्य अधिकारी विक्रम सिंह वर्मा ने बताया ये 14 मरीज बुरहानपुर में एकसाथ मिले हैं। वहीं ये कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए थे।

हालांकि इसमें से 14 मरीज ठीक होकर घर वापस जा चुके हैं। वर्तमान में रास्तीपुरा क्षेत्र हॉट स्पॉट बन गया है। सिवनी जिला अस्पताल के कोविड-19 वार्ड में भर्ती एक 54 वर्षीय महिला की मौत हो जाने के मामले में परिजनों ने लगाए लापरवाही के आरोप। कुरई के वहीदावाद गांव निवासी महिला शशि मर्सकोले को सोमवार को जिला अस्पताल लाया गया था। हार्ट पेशेंट होने के साथ ही महिला को सांस लेने में तकलीफ होने और बुखार होने पर महिला को कोविड-19 के संदिग्ध मरीजों के लिए बनाए गए वार्ड में भर्ती किया गया था। 3 दिनों से महिला का इलाज चल रहा था। 11 मई को महिला का सैंपल कोविड-19 जांच के लिए भेजा गया था। गुरुवार सुबह आई रिपोर्ट में सैंपल निगेटिव पाया गया है। गुरुवार सुबह इलाज के दौरान महिला की मौत हो गई है। इस मामले में बेटे सुधीर मर्सकोले का आरोप है कि वार्ड प्रभारी डॉक्टर दीपक अग्निहोत्री द्वारा महिला के इलाज में लापरवाही बरती गई है।