Wednesday, October 21, 2020
ताज़ातरीनप्रशासनराज्यस्वस्थ्य

डॉक्टरों ने बनाई अनोखी संजीवनी वैन बगैर पीपीई किट पहने की जा सकेगी सेम्पलिंग

वेन में पेपरलेस होगा संपूर्ण वर्क प्रशासन ने भी कि इन सभी बातों की पुष्टि*

छतरपुर /पर्यटन नगरी खजुराहो में ना सिर्फ मध्यप्रदेश बल्कि पूरे उत्तर भारत में अपने तरह की कोरोनावायरस परीक्षण हेतु संजीवनी बैंन का निर्माण किया गया है जो स्थानीय प्रशासन की पहल एवं डॉक्टरों की खोज से यह पूर्णता होममेड संजीवनी बैन है ।
अधिकारियों के मुताबिक प्रदेश सहित संपूर्ण उत्तर भारत में इस तरह की पहली बैंन निर्मित की गई है जो पूरी तरह से स्थानीय संसाधनों एवं स्वयं की पहल व खोज का नतीजा है । उक्त बैन वातानुकूलित होने के साथ ही पूर्णता सुरक्षित भी है एवं सोशल डिस्टेंस के मापदंडों को भी निर्धारित करता है टेंपरेचर पैरामीटर के माध्यम से स्क्रीनिंग कर अंदर बैठकर डॉक्टर मरीज का परीक्षण कर सकेंगे जो कि एक ऐप के माध्यम से डाटा तैयार होगा अतः पेपरलेस चिकित्सा प्रणाली का यह बहुत बड़ा उदाहरण है ।
उक्त बैन का उपयोग वायरस संक्रमित क्षेत्रों में जाकर स्वास्थ्य परीक्षण करना है साथ ही क्षेत्र के बाहर भी आवश्यकता पड़ने पर उक्त वाहन डॉक्टरों की टीम के साथ जाएगी एवं स्वास्थ्य परीक्षण करेगी,

Leave a Reply