Tuesday, October 27, 2020
ताज़ातरीनराजनीतिराज्य

शिव’की सेना में फिलहाल सिर्फ पांच महारथी

 

हर क्षेत्र और जाति को मौका दिया,

-राजनीतिक संवाददाता- 
भोपाल । लंबे इंतज़ार और सियासी रस्साकसी के बाद आखिरकार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने छोटे से मंत्रिमंडल का गठन कर ही लिया । उंन्होने पूर्व केन्द्रीय मन्त्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रयासों को दरकिनार करते हुए संगठन और स्वयं की मंशानुसार छोटा सा मन्त्री मंडल बनाया इसमें सिर्फ पांच लोगों को शामिल किया गया ।
राजभवन में आयोजित एक सादे और संक्षिप्त समारोह में राज्यपाल लाल जी टंडन ने सबसे पहले डॉ नरोत्तम मिश्रा को पद व गोपनीयता की शपथ दिलाई । इसके बाद सिंधिया खेमे के तुलसीराम सिलावट को । इनके बाद  कमल पटेल ने शपथ ली तदुपरांत Nसागर से सिंधिया समर्थक गोविंद राजपूत ने पद और गोपनीयता की शपथ ली । इनके बाद कमल पटेल और फिर विंध्य की नेता मीना सिंह ने शपथ ग्रहण की ।
कोरोना के साये में शपथ
आज का यह शपथ ग्रहण समारोह भी शिवराज सिंह के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के समारोह की तरह ही कोरोना के साये में हुआ । इसमें भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा और सीएम शिवराज के अलावा कोई शामिल नही हुआ । सरकार से भी चुनिंदा अफसर ही शामिल हुए । इसमें भी सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह पालन किया गया ।
मीडिया को भी प्रवेश नही
राज्य में यह पहला मौका था जब मंत्रिमंडल के गठन और शपथ ग्रहण समारोह में मीडिया का प्रवेश वर्जित किया गया । इसकी घोषणा जनसमपर्क आयुक्त पी नरहरि ने पहले ही कर दी थी । मीडिया को फ़ोटो, जानकारी और वीडियो सरकार द्वारा ही उपलब्ध कराया जाएगा क्योंकि सोशल डिस्टेंसिंग के लिए ऐसा करना जरूरी है ।
ये भी पहुंचे
शपथ ग्रहण में पूर्व मुख्यमंत्री सुश्री उमा भारती ,पूर्व मन्त्री संजय पाठक, रामेश्वर शर्मा ,मोहन यादव भी मौजूद रहे।

Leave a Reply