Thursday, October 22, 2020
ताज़ातरीनराज्यस्वस्थ्य

50 डॉक्टर्स के इस्तीफे से कोरोना के उपचार में बाधा 

कोरोना महामारी से स्वास्थ्य महकमे के बड़े—बड़े अफसरों क चपेट में आने के बाद अब इसका खौफ डॉक्टरों में भी दिखाई देने लगा है। ग्वालियर के गजरा राजा मेडिकल कॉलेज से हाल ही में डॉक्टरी की पढ़ाई पूरी करने वाले 88 डॉक्टरों में से 50 ने इस्तीफा दे दिया है। ये सभी मेडिकल आॅफिसर्स थे, इन्हें 1 अप्रैल को ही कोरोना से लड़ने के लिए संविदा पर रखा गया था। डॉक्टरों के इस्तीफा देने की पुष्टी जीआरएमसी बकौल जीआरएमसी प्रबंधन  मुताबिक कहा गया कि हमने सरकार के आदेश पर 92 डॉक्टर्स की इंटर्नशिप पूरी होने पर कोविड—19 में इमरजेंसी के लिए तीन माह के लिए संविदा नियुक्ति पर पदस्थ किया था। इसी बीच मेडिकल रजिस्ट्रेशन काउंसिल का नया आदेश आया, जिसमें कहा गया जो डॉक्टर्स इच्छूक है वो सेवाएं दे सकते हैं। आदेश में इच्छुक शब्द आते ही 50 डॉक्टर्स ने तत्काल इस्तीफा दे दिया है, जो कि मंजूर किया जा चुका है। बुधवार को सरकार ने एस्मा लागू किया है। अब कोई डॉक्टर इस्तीफा देगा तो वह मंजूर नहीं किया जाएगा।

Leave a Reply