Wednesday, October 21, 2020
ताज़ातरीनराज्यस्वस्थ्य

भोजन के पैकेट के स्थान पर कच्ची सामग्री का वितरण किया जाए

कलेक्टर ने स्वयंसेवी संस्थाओं और दानदाताओं से की अपील

ग्वालियर/ नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिये जिला प्रशासन द्वारा पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। स्वास्थ्य सेवाओं के साथ-साथ जरूरतमंदों को भोजन की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जा रही है। दानदाताओं के माध्यम से मानवता के अग्रदूत बने लोग जरूरतमंदों की मदद के लिये आगे आए हैं। ग्वालियर में कई सामाजिक संस्थायें जरूरतमंदों को पके हुए भोजन के पैकेट वितरित कर रहे हैं। इसके साथ ही कच्ची खाद्य सामग्री के पैकेट का वितरण भी सभी के सहयोग से किया जा रहा है।

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कहा कि ग्वालियर में पके हुए भोजन के पैकेट वितरण की व्यवस्था को हमें खत्म करना होगा। इससे कोरोना वायरस के खिलाफ हमारी लड़ाई कमजोर हो रही है और सोशल डिस्टेंसिंग में भी कई प्रकार की कठिनाईयां महसूस की जा रही हैं। पके भोजन के पैकेट के स्थान पर जरूरतमंदों को कच्ची खाद्य सामग्री के पैकेट वितरण करना ही उचित है। इससे जरूरतमंदों को 10 दिन का राशन भी उपलब्ध हो जाता है और उनके परिजनों को घर से बाहर भी नहीं निकलना पड़ता। जिला प्रशासन द्वारा कई स्थानों पर कच्ची खाद्य सामग्री के पर्याप्त पैकेट वितरित किए गए हैं।

कलेक्टर श्री सिंह ने यह भी कहा कि शहर में कई स्थानों पर जिला प्रशासन के साथ-साथ कई संस्थाओं के लोग भी एक ही स्थान पर जरूरतमंदों को खाना वितरण करने पहुँच रहे हैं। इससे एक ही व्यक्ति के साथ कई संस्थायें खाना लेकर पहुँच रही हैं। उन्होंने जिले की सभी स्वयंसेवी संस्थाओं, धार्मिक संस्थाओं, जनप्रतिनिधियों एवं दानदाताओं से आग्रह किया है कि वे कच्ची खाद्य सामग्री के पैकेट जरूरतमंदों को वितरित करें। जिला प्रशासन की ओर से कच्ची खाद्य सामग्री के पैकेट वितरण हेतु महिला एवं बाल विकास विभाग के श्री नरवरिया के मोबाइल नम्बर 9301116307 पर भी संपर्क किया जा सकता है।

Leave a Reply