Monday, October 26, 2020
ताज़ातरीनराज्य

शहर में हरी सब्जियां, मिर्च और धनियां गायब

टोटल लॉक डाउन में   हुई सब्जियों की किल्लत 

-विशेष संवाददाता-
ग्वालियर । ग्वालियर में चल रहे टोटल लॉक डाउन में हालांकि किराने की आपूर्ति तो मंहगी ही सही लेकिन ऑनलाइन सप्लाई हो रही है लेकिन हरी सब्जियों की उपलब्धता की व्यवस्था बुरी तरह से चरमरा गई है । ठेलो से सब्जी और फल बेचने की इजाज़त न होने से काला बाज़ारी भी हो रही है जबकि ऑनलाइन सप्लाई में दो दिन की वेटिंग हो रही है ।
लॉक डाउन के दौरान शुरू में सब्जी और इसकी मंडियों को बंद से मुक्त रखा था लेकिन देखने मे आया कि ये सोशल डिस्टनसिंग की धज्जियां उड़ाने के सबसे बड़े अड्डे बन गए । लक्ष्मीगंज में हजारों की भीड़ इकट्ठी हो गई इसी तरह छतरी मंडी,थाटीपुर, हजीरा और मुरार  सब्जी मंडियों में भीड़ में धक्का मुक्की होती नजर आई इससे कोरोना वायरस के सोसायटी में फैलने की आशंकाएं बलवती ही गयी ।
समीक्षा में ये बिंदु आने के बाद प्रशासन ने सब्जी मंडिया ही बंद नही कराई गली ,गली सब्जी बेचने वाले ठेले भी बंद करा दिए ।
ठेले बन्द होने से लोगो को हरी सब्जी मिलना बंद हो गई। अभिजात्य कॉलोनियों में तो इतनी दिक्कत नही  आ रही क्यो कि इन इलाकों में एक दो ही ठेले सब्जी बेचते है । वे अभी भी कम से कम एक दिन में आपूर्ति कर रहे है लेकिन सभी चीजें मंहगी बेच रहे है । हालांकि ।आलू 50 रुपये तक बिक रहा है और ठेलों से हरी मिर्च,धनियां ,पुदीना आदि चीजे गायब है । लहसुन और प्याज की भी कमी हो रही है ।
सड़को पर सन्नाटा
टोटल लॉक डाउन के चलते आज सबेरे से ही बाज़ारो में सन्नाटा पसरा हुआ है । जो लोग निकल रहे है उनसे पुलिस लगातार पूछताछ कर रही है । वाजिब कारण न बता पाने पर कई स्थानों पर पुलिस ने लोगों को दंडित भी किया । दो बजे के बाद पुलिस पूरी तरह की कढ़ाई करेगी क्योंकि इसके बाद बैंक और कंट्रोल की दुकानों का भी समय निकल जायेगा ।
सभी मेडिकल स्टोर्स खोलने की मांग
स्थानीय नागरिकों और व्यापारिक संगठनों ने प्रशासन से आग्रह किया है कि वह सिर्फ चुनिंदा मेडिकल स्टोर खोलने की अपनी नीति बदलाव और शहर के सभी मेडिकल स्टोर्स खोलने की इजाज़त दें ताकि स्टोर्स पर ज्यादा भीड़ न हो और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो सके। इसके अलावा स्टोर्स पर जरूरी सामान्य दबाइयाँ मिल जाने से लोग मामूली बीमारियों का सहज इलाज कर सकेंगे जिससे अस्पतालों पर अनावश्यक भीड़ नही उमड़ेगी और चिकित्सक और ताकत से कोरोना से जंग लड़ सकेंगे।

Leave a Reply