Monday, October 26, 2020
ताज़ातरीनराज्य

टोटल लॉक डाउन का चौथा दिन : बंद मुकम्मल आम जन भी कर रहे है सहयोग 

_विशेष संवाददाता –
ग्वालियर। जिला प्रशासन द्वारा लागू किये गए चार दिन के टोटल लॉक डाउन का आज चौथा दिन है।  इसके चलते ज्यादातर इलाकों में बंद मुकम्मल है।  लोगों ने अपने को  कैद कर रखा है।  सड़कों पर इक्का-दुक्का लोग और पुलिस और उनके वाहन ही नज़र आ रहे है। प्रशासन आज शाम अपनी आगे की योजना का ऐलान करेगा।
ग्वालियर में बीते चार दिन से प्रश्न के कहने पर टोटल लॉक डाउन चल रहा है। इसके चलते कुछ मेडिकल स्टोर्स  सभी संस्थान ,दुकाने  बंद है।  कतिपय चिन्हित पैट्रोल पम्पो पर ही आपूर्ति हो रही है जबकि गैस एजेंसी को बंद से मुक्त रखा गया है। किराने  की दुकाने भी बंद कर दी गयीं है।  इनकी सप्लाई ऑनलाइन कराने की व्यवस्था प्रशासन ने का दी है।
सब्जी मंडियां भी रहीं बंद – सोशल डिस्टंग्सिंग में सबसे बड़ी बाधा सब्जी मंडियां ही बन रही थी क्योंकि यहाँ बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ती थी जिसके चलते लॉक डाउन के सारे प्रयास बेकार हो जाते थे।  यह इनपुट्स मिलने के बाद प्रशासन ने आज सब्जी मंडी भी बंद रखने का फैसला ले लिया  मंडियों मेंआज सन्नाटा पसरा रहा।
सब्जी मंडी से आपूर्ति बंद हो जाने से हाथ ठेले वालों की पाव बारह हो गई। इनके द्वारा उपलब्ध सब्जियों की लोगों से मनमानी कीट बसूली जा रही है।  इस बात की जानकारी मिलने पर सड़को पर घूम रही पुलिस   और प्रशासन की टीम के लोगों ने अनेक स्थानों पर ठेले वालो को चेताया भी।  बावजूद इसके वे मनमानी कीमत बसूल रहे हैं।
ठेलों पर उमड़ी भीड़ 
मुरार,थाटीपुर और छतरी मंडी में सब्जियों की बिक्री बंद होने  लश्कर , मुरार आदि इलाकों में सब्जी के ठेलों पर ग्राहकों की भीड़ उमड़ पड़ी।  दाना ओली  में तो भीड़ को अलग करने के लिए पुलिस वालों को पहुंचना पड़ा और उन्होंने सोशल डिस्टेंशिंग का पालन कराया।
मेडिकल स्टोर्स पर लगीं कतारें
आज के टोटल  प्रशासन ने सभी मेडिकल स्टोर्स को खोलने  कुछ चिन्हित स्टोर्स को ही खोलने की इज़ाज़त दी थी।  इसके तहत आज माधव डिस्पेंसरी के सामने ,जायरोग चिकित्सालय परिसर और उसके आसपास तथा ग्वालियर और मुरार जिला अस्पतालों के समीप मेडकल स्टोर्स ही खुले थे जिसके चलते सबेरे से ही इन मेडिकल स्टोर्स पर ग्राहकों की भीड़ लग गई।  भीड़ के चलते और हड़बड़ी में लोग सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं कर पा रहे हालाँकि अनेक स्थान पर प्रशासन और पल;इस  इसका पालन कराते हुए नज़र आयीं

Leave a Reply