Tuesday, October 20, 2020
ताज़ातरीनराज्य

ब्रेकफास्ट के बाद कलेक्टर को हटाया और लंच के बाद एसएसपी का  तबादला  

भोपाल। एक तरफ जहाँ प्रदेश कोरोना वायरस के संकट से जूझ रहा है और पूरी मशीनरी इसको फैलने से रोकने में लगी हुई है वहीँ प्रदेश सरकार अपनी नौकरशाही  सर्जरी करने का काम भी साथ – साथ लगी है। आज सरकार ने दो  किये।  पहला बदलाव बल्लभ भवन खुलने के साथ ही हुआ और इंदौर के कलेक्टर बदल दिए गए। जबसे सरकार बदली है माना जा रहा था कि इंदौर कलेक्टर लोकेश जाटव हटेंगे।  वे तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ के समय एंटी माफिया अभियान में काफी बढ़ – चढ़ाकर हिस्सा ले रहे थे और इस दौरान यहाँ के भाजपा नेताओं से उनका टकराव भी हुआ था। अब इंदौर में प्रदेश में सबसे अधिक कोरोनामरीज भी मिल  सरकार को बहाना मिल गया और उन्हें आज हटाया गया।  उन्हें बल्लभ भवन में बतौर सचिव भेजा गया है जबकि उनकी जगह भोपाल से मनीष सिंह को नया  कलेक्टर बनाया गया है।  वे इंदौर में बतौर नगर निगम प्रशासक रह चुके हैं और उन्हें इंदौर को देश का स्वच्छ शहर बनवाने के लिए याद किया जाता है।
दूसरा बदलाव लांच ब्रेक के समय हुआ। इंदौर में बतौर एसएसपी कार्यरत डीआईजी रूचि वर्धन मिश्रा का तबदला भी भोपाल कर दिया गया।  सुश्री मिश्रा भी ऑपरेशन एंटी माफिया में कठोर कार्यवाही की लिए चर्चित हुईं थी।  उनके स्थान पर खरगौन में बतौर डीआईजी पदस्थ हरि नारायण चारि मिश्रा मिश्रा को इंदौर का नया एसएसपी बनाया गया।  वे पहले भी इंदौर में पदस्थ रह चुके हैं।

Leave a Reply