Wednesday, October 21, 2020
ताज़ातरीनदेशराज्यसमाजस्वस्थ्य

अब मालवा में भी कोरोना की दस्तक ,इंदौर में पांच और उज्जैन में पॉजिटिव मिला

 
इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में 5कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं, बुधवार सुबह चार बजे इसकी पुष्टि हुई है। इनमें से तीन मरीज बॉम्बे अस्पताल, एक अरिहंत अस्पताल में और एक एमवाय अस्पताल में भर्ती हैं। तीन मरीज एक ही अग्रवाल परिवार के हैं, ये ऋषिकेश घूमने गए थे। 5 में से 1 रानीपुर और 1 चंदन नगर क्षेत्र से है। बॉम्बे अस्पताल में एक ही परिवार के 3 लोग हैं। इनमें से 4 की कोई फॉरेन हिस्ट्री नहीं है। विभाग पता कर रहा है कि किसके संपर्क में आए हैं। इंदौर कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव ने कहा है कि इस बात को लेकर पैनिक की आवश्यकता नहीं है। सभी मरीजों की हालत स्थिर है और वे चिकित्सीय निगरानी में हैं। सभी का बेहतर इलाज हो रहा है और अन्यत्र संक्रमण नहीं हो, इसके पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।चार इंदौर के रहवासी हैं और एक उज्जैन का है। कलेक्टर जाटव ने यह भी कहा है कि प्रशासन आम जनता को जरूरी सामान घर पर ही उपलब्ध कराने के लिए ठोस उपाय कर रहा है। जरूरी सामान घर पर उपलब्ध कराने के लिए ऑनलाइन स्टोर्स, वेंडर और विक्रेताओं के डिटेल्स जल्द जारी किए जाएंगे ताकि ऑनलाइन ऑर्डर कर घर पर ही आवश्यक वस्तुएं मिल सकें।  मध्य प्रदेश में अब तक 14 मरीज  इंदौर में 5 मरीज मिलने के बाद मध्य प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 14 हो गई है। इसके पहले जबलपुर में 6, भोपाल, ग्वालियर और शिवपुरी में एक-एक मरीज मिले हैं। सबसे पहले जबलपुर में 4 मरीज मिले थे, इसके बाद भोपाल में और मंगलवार को ग्वालियर और शिवपुरी में मरीज मिले।
                                    इधर  मध्य प्रदेश के उज्जैन शहर में एक कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीज मिला है, जिसका इंदौर के अस्पताल में इलाज चल रहा है। उधर इसके बाद उज्जैन में कर्फ्यू लगा दिया गया है। जानकारी के मुताबिक महिला मरीज को 22 मार्च को उज्जैन के चैरिटेबल अस्पताल में भर्ती करवाया गया, ज्यादा सर्दी-खांसी के बाद उसे माधव अस्पताल में शिफ्ट किया गया और इसके बाद कोरोना वायरस के लक्षण दिखने के बाद मरीज को इंदौर के एमवाय अस्पताल में भर्ती किया गया है। जहां बुधवार सुबह उन्हें कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया।  उज्जैन कलेक्टर ने कहा- सभी अपने घरों में रहें  कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी शशांक मिश्र ने आमजन से अनुरोध किया है कि वह अपने घरों में रहें। कोरोनावायरस ने उज्जैन में दस्तक दे दी है इसलिए सतर्कता अत्यंत ही आवश्यक है। कलेक्टर ने कहा है कि यदि किसी व्यक्ति को डॉक्टरों द्वारा होम क्वॉरेंटाइन के निर्देश दिए गए हैं तो वह इसका अनिवार्य रूप से पालन करें तथा घर में अलग कमरे में आइसोलेशन में रहे। उन्होंने कहा है कि सामान्य सर्दी खांसी के मरीज घबराएं नहीं और अपने-अपने घर में रहकर आइसोलेशन मेंटेन करें।  लोग यदि बहुत जरूरी काम से बाहर निकलते हैं तो हैंड वॉश और मास्क का उपयोग करें । कलेक्टर ने कोरोना वायरस से लड़ाई में सभी लोगों से सहयोग का आह्वान किया है तथा कहा है कि वे शासन प्रशासन एवं स्वास्थय विभाग द्वारा दिए जाने वाले निर्देशों का कड़ाई से पालन करें ।घबराए नहीं घर में रहकर ही सुरक्षित रहें ।

Leave a Reply