Sunday, October 25, 2020
ताज़ातरीनदेश

बंद किए गए स्थानों के दैनिक वेतन कर्मचारियों, अतिथि शिक्षकों को सेलरी देगी केजरीवाल सरकार

Athens: A worker wearing a protective suit sprays disinfectant inside a vehicle at a bus depot in Athens, Saturday, March 14, 2020. Greece has announced new sweeping closures Friday, closing all shopping malls, cafes, bars and restaurants, except those that provide only take-aways or deliveries. All museums, ancient sites, libraries and beauty salons will also shut down. For most people, the new coronavirus causes only mild or moderate symptoms, such as fever and cough. For some, especially older adults and people with existing health problems, it can cause more severe illness, including pneumonia. AP/PTI(AP14-03-2020_000006B)

नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodiya) ने कोरोना वायरस के कारण बंद किए गए संविदा कर्मियों, अतिथि शिक्षकों और दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों को बड़ी राहत दी है. शुक्रवार को सिसोदिया ने बताया कि दिल्ली सरकार कोरोना वायरस के मद्देनजर बंद किए गए स्थानों पर काम करने वाले संविदा कर्मचारियों, दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों और अतिथि शिक्षकों को वेतन देगी. मनीष सिसोदिया ने अपने शुक्रवार को अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर यह जानकारी दी.उप मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, ‘दिल्ली सरकार कोरोना वायरस के कारण बंद किए गए स्थानों पर कार्यरत सभी संविदा, दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों और अतिथि शिक्षकों को वेतन का भुगतान करेगी.’

कोरोना के कारण 21 से 23 मार्च तक बंद किए गए बाजार
इससे पहले कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए दिल्ली के सभी मार्केट (थोक एवं खुदरा बाजार) को तीन दिनों तक के लिए बंद करने का फैसला लिया गया है. यह निर्णय कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स की एक बैठक लिया गया. संगठन के महासचिव  प्रवीण खंडेलवाल ने इसकी जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि दिल्ली के सारे मार्केट शुक्रवार 21 मार्च से सोमवार 23 मार्च तक तक बंद रहेंगे. इससे पहले दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कोरोना वायरस के कारण सभी माल को 31 मार्च 2020 तक के लिए बंद रखने का आदेश दिया है. माल में स्थित ग्रोसरी, फार्मेसी और सब्जी की दुकानें खुली रह सकती हैं. उन्होंने अपने आधिकारिक अकाउंट से शुक्रवार को ट्वीट कर इस फैसले की जानकारी दी है.

इसके अलावा दिल्ली सरकार के अंतर्गत आने वाले सभी गैरजरूरी दफ्तर और सेवाओं को भी 31 मार्च 2020 तक के लिए बंद कर दिया गया है. केवल जरूरी पब्लिक डीलिंग वाली गतिविधियां ही चालू रहेंगी. गैरजरूरी केटेगरी में आने वाले सभी स्टाफ को घर से काम करने के लिए कहा गया है.

Leave a Reply