Sunday, October 25, 2020
ताज़ातरीनदेश

मोदी ने कहा- जनऔषधि दिवस लाखों भारतीयों और परिवारों से जुड़ने का दिन

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को कोरोनावायरस को लेकर कहा- पूरी दुनिया नमस्ते की आदत डाल रही है, अगर किसी कारण से हमने ये आदत छोड़ दी है तो हाथ मिलाने के बजाए इस आदत तो फिर से डालने का ये उचित समय है। मैं आपसे अपील करता हूं कि किसी अफवाह पर यकीन न करें। यदि कोई भी शंका है तो डॉक्टर से परामर्श लें।

दरअसल, मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देशभर में मौजूद जनऔषधि केंद्रों के लाभार्थियों से संवाद किया।

यह उनसे जुड़ने का दिन, जिन्हें योजना से राहत मिली- मोदी

उन्होंने कहा कि यह दिन किसी योजना को सेलिब्रेट करने का ही नहीं बल्कि लाखों भारतीयों, परिवारों से जुड़ने का भी दिन है, जिन्हें इस योजना के बूते राहत मिली है। प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना के लाभार्थियों में शामिल दीपा शाह को भावुक देख मोदी भी इमोशनल हो गए।

पुलवामा के लाभार्थी गुलाम नबी से मोदी ने कहा- दिल्ली में मेरे एक मित्र हैं। उनका नाम भी आपके समान है। मैं जब अगली बार गुलाम नबी जी से मिलूंगा तो मैं उन्होंने कहूंगा कि मुझे पुलवामा में भी एक गुलाम नबी से मिलने का मौका मिला।

700 जिलों में जनऔषधि केंद्रों की शुरुआत हो चुकी

भारत के 728 जिलों में से 700 जिलों में जनऔषधि केंद्रों की शुरुआत हो चुकी है। फिलहाल 6200 जन- औषधि केंद्रों के माध्यम से कई बीमारियों की दवाएं और चिकित्सा उपकरण मुहैया करवाए जाते हैं। 1 से 7 मार्च के बीच जनऔषधि सप्ताह आयोजित किया जाता है।

मोदी ने ट्वीट किया: मैं ऐसे तमाम लोगों से बातचीत के लिए उत्साहित हूं जिन्हें किफायदी दामों में दवाइयां मिलीं। ऐसे स्टोर मालिक जो आत्मनिर्भर बन गए। यही वजह है कि प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना विशेष है।

Leave a Reply