Sunday, October 25, 2020
ताज़ातरीनदेश

दिल्ली हिंसा पर चर्चा के लिए विपक्ष का   हंगामा, नाराज स्पीकर बिड़ला दूसरे दिन भी सदन में नहीं आए

नई दिल्ली. संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण में विपक्ष दिल्ली हिंसा पर चर्चा के लिए अड़ा है। उसने गुरुवार को लगातार चौथे दिन लोकसभा में हंगामा और नारेबाजी की। इसके बाद सदन की कार्यवाही 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। इससे पहले बुधवार को दोनों सदनों में विपक्ष के शोर-शराबे की वजह से काेई कार्यवाही नहीं हाे सकी। लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला सदन में विपक्ष के व्यवहार से दुखी हैं। वे आज दूसरे दिन भी संसद नहीं आए।

बिड़ला की गैर-मौजूदगी में भृर्तहरि मेहताब ने सदन का संचालन किया। प्रश्नकाल के दौरान कांग्रेस, तृणमूल, सपा, बसपा, द्रमुक, माकपा समेत अन्य दलाें ने दिल्ली हिंसा पर चर्चा की मांग की। विपक्षी सांसदों ने माेदी सरकार शर्म कराे, प्रधानमंत्री जवाब दाे के नारे भी लगाए। कांग्रेस सांसदों ने वेल में आकर गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग की। मेहताब ने सांसदों से शांति बनाने और अपनी सीट पर लौटने की अपील की। उन्होंने कहा कि आज कोरोनावायरस की स्थिति पर चर्चा होनी है। इसके बाद भी हंगामा जारी रहा तो मेहताब ने कहा कि इन दिनों सदन के माहौल को लेकर स्पीकर (ओम बिड़ला) काफी दुखी हैं।

बिड़ला महिला सांसद के साथ हुई धक्का-मुक्की से नाराज

इससे पहले बुधवार काे भी ओम बिड़ला लोकसभा में नहीं गए। वे पूरे दिन अपने चैंबर में ही रहे थे। उनकी जगह पीठासीन सभापति किरीट सोलंकी ने सदन की कार्यवाही का संचालन किया। बताया जा रहा है कि बिड़ला मंगलवार शाम सदन में महिला सांसद के साथ हुई धक्का-मुक्की की घटना से खफा हैं।

Leave a Reply