Monday, October 26, 2020
ताज़ातरीनदेश

महाशिवरात्रि पर्व पर त्रिवेणी में डुबकी लगाने पहुंचे श्रद्धालु

प्रयागराज. त्याग, भक्ति और मुक्ति के अनुपम समन्वय, ‘माघ मेला’ का आज महाशविरात्रि पर्व पर अंतिम स्नान है। इसके साथ माघ मेले का समापन हो जाएगा। भोर से ही गंगा, यमुना व अदृश्य सरस्वती के संगम तट पर श्रद्धालु पवित्र जल में स्नान का पुण्य लाभ अर्जित कर रहे हैं। मौसम खराब होने के बाद भी श्रद्धालुओं में उत्साह है। मेला प्रशासन का अनुमान है कि, आज करीब 10 लाख श्रद्धालु स्नान करेंगे। सुबह 9 बजे तक दो लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने पावन संगम में डुबकी लगाई है।

 

इटली से आए परिवार ने देखी संगम की छटा

कल्पवास के त्याग, श्रद्धा के समर्पण और संन्यास के संकल्प से दीप्त माघ मेला का 10 जनवरी को शुभारंभ हुआ था। बीते 9 फरवरी को माघी पूर्णिमा पर कल्पवास समाप्त होने के बाद ज्यादातार कल्पवासी व संत लौट चुके हैं। संगत पर कुछ ही साधु संत महाशिवरात्रि पर्व के स्नान के लिए रुके हैं। हालांकि, संगम पर हर दिन हजारों श्रद्धालु स्नान के लिए जुटते हैं। लेकिन माघ मेले के अंतिम स्नान व महापर्व शिवरात्रि पर श्रत्रालुओं की भीड़ जुटी है। कई विदेशी पर्यटक भी संगम पहुंचे हैं। महाशिवरात्रि पर इटली से आए परिवार ने संगम का विहार किया।

10 घाटों पर स्नान की व्यवस्था

मेला प्रशासन ने महापर्व पर श्रद्धालुओं की आमद देखते हुए 8 मजिस्ट्रेटों की ड्यूटी लगाई है। छह मजिस्ट्रेट शहर व आसपास के शिवालयों में तैनात किए गए हैं। संगम व दारागंज में 10 घाटों पर स्नान की व्यवस्था की गई है। घाटों पर गोताखोर के साथ जल पुलिस भी मुस्तैद है।

Leave a Reply